Tuesday, August 14, 2018

शिक्षाएं आज भी समाज की भलाई के लिए प्रासंगिक हैं ; रामबिलास शर्मा

पलवल 14 अगस्त(abtaknews.com)हरियाणा के शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा है कि भगवान परशुराम की शिक्षाओं से मानव जाति को नई राह मिली थी। उन्होंने सच्चाई के लिए लडऩे वालों का साथ दिया तथा अत्याचारियों को कड़ी सजा दी। उनकी शिक्षाएं आज भी समाज की भलाई के लिए प्रासंगिक हैं। शिक्षा मंत्री मंगलवार को गांव गढ़ी पटटी में परशुराम सेवा समिति की ओर से एक करोड़ 40 लाख रुपये की लागत से बनाए गए परशुराम भवन का उद्ïघाटन करने के बाद उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान का इतिहास व विश्वास बहुत अच्छा है। इस देश के युवाओं में अपार ऊर्जा है, जिसके बल पर भारत लगातार प्रगति की ओर बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि इस देश में अनेक महापुरूष हुए, जिन्होंने मानवता की भलाई के लिए कार्य किया। भगवान परशुराम ने कभी भी अन्याय को सहन नहीं किया, इसलिए ऐसी विभूतियों से समाज को हमेशा प्रेरणा मिलती रहेगी। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि पहले भी उन्होंने इस भवन के लिए 21 लाख रुपए दिए हैं तथा आगे 11 लाख रुपए और देने की घोषणा करते हैं। 

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे पूर्व सिंचाई मंत्री हर्ष कुमार ने कहा कि इस भवन के निर्माण से ब्राह्मïण समाज के लोगों को काफी लाभ मिलेगा। समाज की अनेक गतिविधियां यहां आसानी से संचालित हो सकेंगी। उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्री सबके साथ मिलकर चलने वाले व्यक्ति हैं, इनकी कार्यशैली से अनेक लोग प्रभावित हैैं। उन्होंने कहा कि ब्राह्मïण समाज ने उन्हें हमेशा अपार प्यार-प्रेम व सहयोग दिया है, जिसके वे आभारी हैं। इससे पहले ब्राह्मïण समाज के युवा शिक्षामंत्री को मोटरसाइकिलों के काफिले के साथ खुली जीप में कार्यक्रम स्थल तक लेकर आए। यह काफिला शहर के मुख्य मार्गों से गुजरा, जहां अनेक संगठनों के लोगों ने शिक्षा मंत्री का जोरदार स्वागत किया। शहर के व्यापारी रूपा ठुकराल व राजकुमार तायल सहित सैकड़ों लोगो ने जगह-जगह उनका स्वागत किया। मंत्री ने इस अवसर पर राजकीय उच्च विद्यालय का दर्जा बढ़ाते हुए गांव गढ़ी पट्ïटी के शहीद राजवीर ने नाम पर सीनियर सेकेंडरी स्कूल बनाने की घोषणा की। इस अवसर पर शहीद के परिजनों को को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि ब्राह्मïण समाज सभी को साथ लेकर चलता है। समाज के लोगों को राजनीति व समाजसेवा के कार्यों में आगे आना चाहिए। 

समाज को बदलने के लिए ब्राह्मïण समाज को नेतृत्व करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि आज का दौर शिक्षा का दौर है। शिक्षा के बिना हर व्यक्ति अधूरा है। प्रदेश की मनोहर सरकार शिक्षा व स्वास्थ्य पर पूरा ध्यान दे रही है। सरकारी स्कूलों में व्याप्त कमियों को दूर कर बेहतर शिक्षा दी जा रही है। इस अवसर पर पृथला के विधायक टेकचंद शर्मा, मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला, हरियाणा श्रम कल्याण बोर्ड के वाइस चेयरमैन हरि प्रकाश गौतम, पूर्व विधायक रामरतन, भाजपा के जिलाध्यक्ष जवाहर सिंह सौरोत, जिला ब्राह्मïण सभा के अध्यक्ष पंडित लेखराज, पूर्व जिलाध्यक्ष शंभू पहलवान, डॉ ओमबीर शर्मा सदस्य भारतीय खाद्य निगम, वीरपाल दीक्षित, शिव वशिष्ठ, विष्णु गौड़, ऋषि भारद्वाज, मोहनदत्त, बृजेश शर्मा ने भी अपने विचार रखे। परशुराम सेवा समिति के प्रधान बिजेन्द्र ने समाज की तरफ से रामबिलास शर्मा को स्मृति चिन्ह भेट किया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: