Tuesday, August 7, 2018

सड़क सुरक्षा सम्बन्धी विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन, विजेता प्रतिभागी हुए सम्मानित

फरीदाबाद 07 अगस्त(abtaknews.com)प्रादेशिक परिवहन विभाग द्वारा चलाए जा रहे सड़क सुरक्षा जागरूकता अभियान में नोडल अधिकारी डा0 एमपी सिंह ने डीपीएस, सैक्टर-19, फरीदाबाद में सड़क सुरक्षा सम्बन्धी विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन कराया। जिसमें राजेन्द्र सिंह, परिवहन निरीक्षक, इन्सपेक्टर राजेश कुमार, सतीश आचार्य मुख्य रूप से उपस्थित थे। विभिन्न प्रतियोगिताओ के विजेता बच्चों को सम्मानित किया गया।
सड़क सुरक्षा के नोडल अधिकारी डा0 एमपी सिंह ने परिवहन आयुक्त, हरियाणा, चण्डीगढ के अनुसार अगस्त कलैण्डर पर काम करते हुए डीपीएस स्कूल में रंगोली और क़्विज प्रतियोगिताओं का आयोजन कराया और अपने सम्बोधन में कहा कि आजकल कावंड़ यात्रा का समय चल रहा है इसलिए सड़क को अधिकतर दो भागों में बांट दिया गया है जिससे कि पैदल चलने वाले कांवड़ियां आसानी से अपनी यात्रा को मंगलमय बना सके। इसी सोच के साथ डा0 एमपी सिंह ने कहा कि इस अवसर पर आप अपनी स्वयं सेवक की भूमिका निभांए और यातायात पुलिस व प्रशासन का साथ और सहयोग दें। जल्दबाजी ना करें। डा0 एमपी सिंह ने अनेकों उदाहरण देकर टीनऐज के विद्यार्थियांे को समझाया कि जीवन बहुत लम्बा और अमूल्य होता है इसलिए यातायात सम्बन्धी सभी नियमों की पालना करनी चाहिए और अपने माता-पिता, भाई-बहन व रिश्तेदारांे को सड़क पर चलने के नियम और कानूनों को बताना चाहिए। नशे की हालत में कभी भी वाहन नहीं चलाना चाहिए और कम उम्र में विद्यार्थियों को अपने माता-पिता से वाहन लेने की जिद नहीं करनी चाहिए। अज्ञानता में अधिकतर सड़क दुर्घटनाएं ज्यादा होती हैं। प्रशिक्षण के बाद हर काम आसान हो जाता है इसलिए पहले सही तरीके से अपना ड्राईविंग लाईसैन्स बनवाएं और पूर्ण ज्ञान प्राप्त करें। इस अवसर पर ट्रैफिक इंचार्ज राजेश कुमार ने सड़क दुर्घटनाओं से बचने के लिए कहा कि सड़क पर चलते समय हमें दाहिनी तरफ देखना चाहिए फिर बाईं तरफ। मोबाईल के द्वारा होने वाले जुल्म के बारे में विस्तृत जानकारी दी और गलत ऐप या लिंग से बचने के लिए कहा कि साइबर क्राइम अधिकतर बढता जा रहा है जिसकी वजह से मासूम बच्चे और अनपढ महिलाएं उसका शिकार हो रही हैं। यदि कोई मोबाईल पर आने वाले मैसेज/ओटीपी के बारे में पूछता है तो कभी भी किसी को टीपी नहीं बतानी चाहिए उससे आपको एकाउन्ट हैक हो सकता है। आचार्य सतीश ने कहा कि सीट बैल्ट और हेलमेट ना लगाने पर डी.एल. सस्पैन्ड हो जाता है। काॅर्मिशयल वाहन में सवारी और सवारी वाहन में सामान ढोने पर भी डीएल सस्पैन्ड हो जाता है। यदि कम उम्र के विद्यार्थी नियमों को तोड़कर वाहन चलाते हैं तो उनके माता-पिताओं पर भारी-भरकम जुर्माना हो जाता है। इस अवसर पर परिवहन निरीक्षक राजेन्द्र सिंह ने कहा कि हमारा विभाग सरकार के नियमों की पालना करते हुए अधिक से अधिक विद्यालय, महाविद्यालय मंे विद्यार्थियों के लिए जागरूकता हेतु कार्यक्रम कर रहा है ताकि सड़क दुर्घटनाओं में हताहत, घायल व मरने वालों की संख्या में कमी लाई जा सके। इस अवसर पर विद्यालय के उप प्रधानाचार्य अनिल वशिष्ठ ने आए हुए अतिथियों का गुलदस्ता देकर स्वागत किया। इसिका धीमान्त, सहारा सिंह, अनन्या जैन, वंशिका मित्तल, रंगोली प्रतियोगिता में प्रथम, जमुना हाउस द्वितीय और गंगेश हाउस तृतीय रहा। रोड सेफ्टी क्विज प्रतियोगिता में झेलम हाउस से सांची आहुजा, श्रष्ठि सोमानी प्रथम, जमुना हाउस से चेताली सिंह, हर्ष गुप्ता, परिधि सीकरी, नवजीत द्वितीय और चैनम गोयल, मानवी गर्ग तृतीय रहीं। इस अवसर पर मिस ज्योति धन उप प्रधानाचार्य, रंजना ऋषि, पिस्ता बहल, कुसुम, शिवानी, नेहा, सुभी, अंशु, सुचिया आदि उपस्थित थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: