Thursday, August 9, 2018

बोल बम के जयघोष से गूंजी कल पुर्जो की नगरी फरीदाबाद, गंगाजल से शूलपाणि का जलाभिषेक



फरीदाबाद-09अगस्त(abtaknews.com) शिव रात्रि पर हरिद्धार से गंगाजल लेकर फरीदाबाद पहुंचे शिव भक्त कांवड़ियों ने शूलपाणि का जलाभिषेक किया।पिछले  छह वर्षो से लगातार लगभग 45 किलो की शिव भोले की मूर्ति को कांधे पर लेकर जाने वाले कावंडिये कवि हरसाना का आज फरीदाबाद पहुंचने पर समाजसेवी टेकचंद नन्द्राजोग (टोनी पहलवान) ने साथियों सर्वजीत सिंह चौहान,कर्मवीर नरवाल,जीतराम, मथुरा दास, विनय लाम्बा, अरूण नागर सहित अन्य के साथ ओल्ड फरीदाबाद स्थित केपिटल बस स्टैड के पास जोरदार स्वागत किया।  इस मौके पर टेकचंद नन्द्राजोग (टोनी पहलवान) ने कावंडिये कवि हरसाना को भागवत गीता भेंट की एवं उनकी सेवा के लिए फल आदि का भी इंतेजाम किया हुआ था।
इस मौके पर कावडिये कवि हरसाना ने कहा कि वह पिछले लगभग 6 वर्षो से लगातार शिव बाबा की मूर्ति को लेकर कावंड लेने जाते है और हर वर्ष महाशिवरात्रि के समय फरीदाबाद पहुंचकर जल चढाते है उन्होंने कहा कि इस कार्य से उन्हें आत्मसंतुष्टि मिलती है।टेकचंद नन्द्राजोग (टोनी पहलवान) ने कहा कि भारत ऋषि मुनियो की पवित्र धरा है और इस धरा पर कई ऋषि मुनियो ने वास किया है और हम सभी केा गर्व महसूस करना चाहिए कि हम भारतवर्ष जैसे देश के नागरिक है जहां परम्परा, संस्कृति का संगम समय समय पर देखने को मिलता है। टोनी पहलवान ने कहा कि कावंड लाना बहुत ही पुण्य का कार्य है इस कार्य को करने से जहां आपसी भाईचारा बना रहता है वही धर्म की प्रवृति भी होती है जो कि हमारे युवाओं व आने वाली पीढियो के लिए लाभदायक सिद्ध होगी।
हरिद्धार से कांवड लेकर फरीदाबाद शहर पहुंचे एनआईटी दो नम्बर प्राचीन शिव मंदिर में भोले के भक्तों ने बम बम भोले का जयघोष करते हुए शिवलिंग पर जलाभिषेक किया। इस दौरान शिवालय मंदिर में खीर का प्रसाद भी वितरित किया गया। एनआईटी दो नम्बर का प्रचान शिव मंदिर जिसे शिवालय के नाम से लोग मानते हैं। शिवालय मंदिर में कांवड लेकर पहुंचे शिवभक्त राजू भाटिया ने बताया कि वह हरिद्धार से पैदल ही कांवड लेकर आये हैं और आज शिवालय मंदिर में आकर शिवलिंग पर जल चढाया है। मंदिर के पुजारी पंडित बसंत शर्मा ने तो हर साल सावन के महीने में सैकडों शिव भक्तों का हुजूम मंदिर में उमडता है, कांवडियां कांवड लेकर आते है और शिवालय में शिवलिंग पर जल चढाते हैं।

loading...
SHARE THIS

0 comments: