Thursday, August 30, 2018

राहुल गांधी घटिया ब्यानबाजी से बाज़ आये: अनिल प्रताप सिंह



फरीदाबाद(abtaknews.com) भारतीय जनता पार्टी के जिला मीडिया प्रभारी ठा. अनिल प्रताप सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के उस ब्यान की कटु शब्दो में निंदा की जिसमें उन्होंने कहा कि ‘भारत में केवल एक एनजीओ के लिए जगह है, जिसका नाम आरएसएस है बाकी सारे एनजीओ को ताला लगा दो। सारे एक्टिविस्टों को जेल में डाल दो और जो इसके खिलाफ आवाज उठाते हैं उन्हें गोली मार दो नए भारत में आपका स्वागत है की’। ठा. अनिल प्रताप ङ्क्षसह ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने जिस तरह से देश को उन्नति के शिखर पर पहुंचाया है उससे कुछ ऐसे लोग परेशान है जो कि देश की उन्नति को पचा नहीं पा रहे है और वह ऐसे ओजस्वी प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रच कर इस देश को फिर से गुलाम बनाना चाहते है।
ठा. अनिल प्रताप ङ्क्षसह ने कहा कि राहुल गांधी एक सम्मानीय पद पर आसीन है और उनके पिताश्री स्व. राजीव गांधी भी आंतकवाद की भेंट चढे उन्हें ऐसे शब्दो का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जो देश को आगे बढ़ाये उसके सहयोग करना चाहिए ना कि उन लोगों का सहयोग करें जो कि ऐसे व्यक्तित्व को समाप्त करना चाह रहे है जिसने इस देश की दिशा और दशा दोनो बदल कर रख दी है। आज हर वर्ग प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के कार्यकाल से पूरी तरह से संतुष्ट है और वह इस देश को आगे बढ़ता हुआ देखना चाह रहे है और वह तभी हो सकता है जब कि प्रधानमंत्री श्री मोदी के साथ पूरा देश कंधे से कंधा मिलाकर चले।
श्री सिंह ने कहा कि राहुल गांधी उन आंतकवादियों के पक्ष में आ रहे है जिस आंतकवाद की भेंट उनके पिता स्व. राजीव गांधी चढे। राहुल गांधी को इस तरह की ब्यानबाजी करके उन लोगों का सहयोग नहीं बल्कि उनके खिलाफ डट कर सामने खडे होये। जो लोग इस देश में आंतकवाद व इस देश को कमजोर करना चाहते है उसके लिए पूरा देश एकजुट होना चाहिए ना कि उनके पक्ष में आना चाहिए। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री की हत्या करने की साजिश करने वाले इन लोगों के खिलाफ पूरा देश एकजुट हो गया है और राहुल गांधी ऐसी ब्यानबाजी करके उन लोगों को शह दे रहे है जिसे देश की जनता सहन नहीं करेगी और आगामी 2019 के चुनावों में राहुल गांधी को सबक सिखायेगी।ठा. अनिल प्रताप ने  मांग की है कि राहुल गांधी को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए और उन्हें अपनी ब्यान पर माफी मांगनी चाहिए।


loading...
SHARE THIS

0 comments: