Sunday, August 26, 2018

दिल्ली की तर्ज पर मृतक बिजलीकर्मी के परिजनों को मिले एक करोड़ - धर्मबीर भड़ाना

फरीदाबाद(abtaknews.com) बिजली निगम में ठेके पर काम करने वाले एक कर्मचारी की मौत के मामले में परिजनां द्वारा रविवार को बी के अस्पताल में किए गए हंगामे के दौरान आप नेता धर्मबीर भड़ाना ने पीडि़त परिवार के परिजनां को दिल्ली सरकार की तर्ज पर एक करोड मुआवजा दिए जाने की मांग की। उन्हांने कहा कि यह हादसा बिजली निगम के अधिकारियां की लापरवाही से हुआ है, इसलिए इसमें बिजली निगम और सरकार को जिम्मेदारी उठाते हुए मृतक हसन मोहम्मद के परिजनां का पालन-पोषण करने के लिए पर्याप्त राशि देनी चाहिए और परिवार में से एक सदस्य को नौकरी दी जाए। उन्हांने दिन-प्रतिदिन हो रहे हादसों के लिए राज्य सरकार की नीतियां एवं बिजली निगम को पूर्णत: जिम्मेदार ठहराया।
ज्ञातव्य है कि बीते कल ट्रांसफार्मर पर काम करते हुए करंट लगने से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि उक्त मामले में मौके पर मौजूद जेई ने एसडीओ को लाइन काटने के लिए बोला, मगर दोनां तरफ से लापरवाही बरती गई और उस कर्मचारी को बिना लाइन काटे ही ट्रांसफार्मर पर चढ़ा दिया गया, जिससे करंट लगने से उसकी मौत हो गई। लगभग 42 वर्षीय हसन मोहम्मद गांव बडख़ल का रहने वाला और पिछले 7-8 सालों से बिजली निगम में ठेके पर काम कर रहा था। हसन मोहम्मद की मृत्यु की खबर सुनते ही उसके परिजन एशियन अस्पताल पहुंचे और वहां जमकर हंगामा किया। उन्हांने एसडीओ नरेन्द्र एवं जेई नेत्रपाल भाटी की गिरफ्तारी एवं उचि मुआवजे की मांग की।
आज प्रात: इसी मामले में ग्रामीण बी के अस्पताल में एकत्रित हुए और जमकर हंगामा किया। स्थिति को भांपते हुए भारी मात्रा में पुलिस बल मौके पर पहुंचा। जहां ग्रमीणां ने जब तक उनकी मांगे पूरी न हां, शव का पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया। मौके पर विधायिका श्रीमती सीमा त्रिखा, कांग्रेसी नेता डा. राधा नरुला भी पहुंची और परिजनां को आश्वासन दिया, मगर परिजन अपनी मांगां पर अड़े रहे। सर्व कर्मचारी संघ के जिला प्रधान एवं ऑल हरियाणा पॉवर कॉरपोरेशन वर्कर यूनियन के सर्कल सचिव अशोक कुमार ने मामले में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए उच्च अधिकारियां से बात की और मौके पर मौजूद ग्रामीणां को समझाया। उन्होनें आश्वासन दिया कि बिजली निगम एवं अन्य सभी प्रकार के मुआवजे का भुगतान मृतक के परिजनां को अति शीघ्र कराया जाएगा और अगर कोई लापरवाही बरतता है, तो एएचपीसी वर्कर यूनियन हसन मोहम्मद को न्याय दिलाएगी। पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर बिजली निगम के जेई नेत्रपाल भाटी एवं एसडीओ नरेन्द्र के खिलाफ लापरवाही बरतने का मामला दर्ज कर लिया है।


loading...
SHARE THIS

0 comments: