Monday, August 20, 2018

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने वाईएमसीए कुलपति को सौंपा 31 सूत्रीय मांग पत्र

फरीदाबाद-20 अगस्त(abtaknews.com) अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की वाईएमसीए इकाई ने विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ दिनेश अग्रवाल जी से मिलकर उनसे विश्वविद्यालय के अनेक मुद्दों को लेकर चर्चा की  एवं छात्र छात्राओं को पेश आ रही समस्याओं को 31 सूत्रीय मांगपत्र के रूप में सौंपा। वाईएमसीए की इकाई के पदाधिकारियों ने विश्वविद्यालय के सामान्य छात्र छात्राओं के बीच जाकर जब उनकी समस्याओं को जाना तो प्रत्येक समस्या को गंभीरता से लेते हुए  उन्हें सूची बद्ध करके विश्वविद्यालय प्रशाशन के समक्ष  31 सूत्रीय  मांग पत्र के रूप में उठाया।होस्टल अभी भी विश्वविद्यालय में एक बहुत बड़ी समस्या है विश्वविद्यालय प्रशाशन अभी भी छात्रों को होस्टल उपलब्ध नही करवा पा रहा है । प्रशाशन द्वारा की गई वैकल्पिक व्यवस्था में भी अनेकों खामियां हैं खास तौर पर गर्ल्स हॉस्टल की समस्याएं, वाशरूम की समस्याएं, वाईफाई की समस्याएं, कैंटीन और मैस की समस्याएं,प्ले ग्राउंड, लाइब्रेरी बुक, विश्वविद्यालय परिसर में मार्किट न होना आदि  समस्याओं से  अभाविप प्रतिनिधि मंडल ने कुलपति महोदय को अवगत कराया जिसके प्रतिउत्तर में कुलपति महोदय ने भी समस्याओं के त्वरित निदान का आश्वासन दिया।
इस मौके पर एबीवीपी वाईएमसीए अध्यक्ष अनूप वशिष्ठ ने बताया कि विद्यार्थी परिषद साल के 365 दिन और दिन के 24 घंटे विद्यार्थियों के बीच रहकर कैंपस मे काम करने वाला संगठन है वह छात्रों की समस्याओं के समाधान के लिए आज कुलपति महोदय से मिले हैं यदि  समस्याओं का जल्दी कोई हल नही निकाला गया तो विश्वविद्यालय के छात्र विद्यार्थी परिषद के बैनर तले  आंदोलन करने से भी पीछे नही हटेंगे। देश सरकार द्वारा छात्र संघ चुनाव बहाली की घोषणा भी विद्यार्थी परिषद के लंबे संघर्ष की जीत है  किंतु सरकार ने अभीतक इस विषय मे कोई नोटिफिकेशन जारी नही किया है इस लिए विद्यार्थी परिषद सरकार से भी मांग करती है कि जल्द से जल्द लिंगदोह की सिफारिशों के अनुरूप प्रत्यक्ष तरीके से छात्र संघ चुनाव करवाने की नोटिफिकेशन जारी हो एवं छात्र संघ चुनाव करवाये जाएं। इस मौके पर आदित्य मौर्य, विकास, रिचा, गौरव, सोनू सहित  परिषद के अनेक कार्यकर्ता उपस्थित रहे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: