Wednesday, July 4, 2018

छात्रों के जीवन से खिलवाड़ बंद करें खट्टर सरकार : कृष्ण अत्री

Khattar Sarkar: Krishna Atri


फरीदाबाद(abtaknews.com) 4 जुलाई,2018 ;,एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री ने एमडीयू के तुगलकी फरमान को वापिस कराने के लिए प० जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय की प्राचार्या श्रीमति प्रीता कौशिक को ज्ञापन सौंपा ।इस मौके पर हरियाणा एनएसयूआई प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री ने बताया कि महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी की तरफ से फिर इस बार एक तुलगकी फरमान आया है जिसके तहत तीसरे सेमेस्टर में दाखिला लेने के लिए पहले सेमेस्टर के 50 प्रतिशत विषय मे पास होना अनिवार्य है तथा पांचवें सेमेस्टर में दाखिला लेने के लिए पहले सेमेस्टर के शत प्रतिशत विषय मे पास होना अनिवार्य है । जबकि दाखिले के समय छात्रों को इस तरह के किसी नियम के बारे में नही बताया गया था । अब बीच मे इस तरह का नियम लागू करके छात्रों को परेशान किया जा रहा है ।

अत्री ने कहा कि पिछले तीन सत्रों ( 2015-2016, 2016-2017, 2017-2018 ) में भी इसी तरह का नियम आया था जिसका फरीदाबाद एनएसयूआई ने पुरजोर तरीके से विरोध किया था। पिछले वर्षों में इस नियम को वापिस कराने के लिए एनएसयूआई फरीदाबाद ने डीसी ऑफिस का घेराव, रोड जाम तथा 2017 में 300 छात्र छात्राओं ने सेंट्रल थाना सेक्टर 12 में गिरफ्तारी दी थी ।  एनएसयूआई फरीदाबाद के अथक प्रयासों के बाद एमडीयू प्रशासन तथा हरियाणा की खट्टर सरकार को इस नियम को वापिस लेना पड़ा था ।

उन्होंने कहा कि जब जब खट्टर सरकार ने छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है, एनएसयूआई फरीदाबाद ने सबसे पहले छात्रों की आवाज को बुलंद किया है। समय समय पर छात्रहितों की लड़ाई लड़कर छात्रों को उनका हक दिलाया है। अत्री ने कहा अगर इस बार भी एमडीयू ने तुलगकी फरमान वापिस नही लिया तो वो किसी भी हद तक जा सकते है पर छात्रहितों का हनन नही होने देंगे। इस मौके पर मुख्य रूप से प्रोफेसर शलेश्वर कौशिक, दिनेश कटारिया, राहुल गुर्जर, बलराम नागर, अभिषेक शर्मा, हंसराज, सोनू  आदि मुख्य रूप से मौजूद थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: