Tuesday, July 17, 2018

जवाब दो हिसाब दो यात्रा पहुंची फरीदाबाद, कृष्ण नागर ने किया छात्र आक्रोश सम्मेलन

Answer: Two accounts reached Faridabad, Krishna Nagar organized a protest rally

फरीदाबाद(abtaknews.com) 17 जुलाई,2018 ; एनएसयूआई फरीदाबाद के जिलाध्यक्ष कृष्ण नागर द्वारा सेक्टर 10 में आयोजित विशाल छात्र आक्रोश सम्मेलन में जिले के हजारो छात्रो ने सरकार की जनविरोधीनीतियों के विरुद्ध अपना रोष व्यक्त कर प्रदर्शन किया जिसमें एनएसयूआई के प्रदेशाध्यक्ष दिव्यांशु बुद्धिराजा ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत करी और सरकार के विरुद्ध रोष व्यक्त करते हुए प्रदर्शन किया और सरकार के विरुद्ध नारेबाजी करी।भाजपा के 2014 के चुनावी घोषणा पत्र का जवाब व वायदों का विस्तारपूर्वक हिसाब लेने बारे प्रदेश के छात्रो की ओर से मुख्यमंत्री के नाम जिलाधीश के द्वारा तहसीलदार को ज्ञापन सौपा।
Answer: Two accounts reached Faridabad, Krishna Nagar organized a protest rally

कृष्ण नागर द्वारा आयोजित सम्मेलन में हजारो की संख्या में युवाओ व छात्रो ने अपनी हाजरी दर्ज कराई।बुद्धिराजा ने ज्ञापन में कहा है कि 2014 के चुनावों में भाजपा द्वारा प्रदेश की जनता व छात्रो से घोषणा पत्र के माध्यम से अनेको तरह के चुनावी वायदे किए गए जबकि लगभग 4 साल बीतने के बाद भी प्रदेश का छात्र-युवा-बुजुर्ग स्वयं को ठगा हुआ सा महसूस कर रहा है।भाजपा द्वारा 2014 में छात्रो के उत्थान के लिए अनेको विश्वविद्यालय-महाविद्यालय खोलने का वायदा किया गया था परन्तु अब तक सरकार अपने वायदों को पूरा करने में विफल साबित हुई है।छात्र,जोकि देश का भविष्य है उन्हें राजनीति में आगे लाने के लिए प्रदेश में छात्र संघ चुनाव बहाल करने का वायदा किया था परन्तु अब तक न तो चुनाव बहाल हुए,न ही तिथि निश्चित हुई व न ही बजट आवंटित हुआ।प्रदेश के 59 राजकीय महाविद्यालयों में विभिन्न 39 विषय 2018-19 शैक्षिक सत्र से बन्द कर दिए गए है जबकि हरियाणा में पहले ही उच्चतर शिक्षा का आभाव है और बेरोजगारी अपनी चरम पर है ऐसे में विषय बन्द करके बेरोजगारी तो बढ़ेगी ही और बच्चे उच्चतर शिक्षा प्राप्त करने से भी वंचित रह जाएंगे।भाजपा द्वारा बेरोजगार युवाओ को 6000-9000 बेरोजगारी भत्ता देने का वायदा किया गया था परन्तु अब तक सरकार इस वायदे को पूरा करने में नाकाम साबित हुई।भाजपा द्वारा वायदा किया गया था कि प्रदेश में बेरोजगारी को खत्म करने के लिए रोजगार के साधन मुहैया कराए जाएंगे जबकि 4 वर्ष में किसी प्रकार का निवेश नही हुआ।प्रदेश में उपचार हेतु 2 अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) स्थापित करने का वायदा किया था परन्तु सरकार नाकाम रही, उतरी हरियाणा में विश्वविद्यालय स्थापित करने का भी वायदा किया था परन्तु जमीनी स्तर पर वायदा खोखला साबित हो रहा है।इसके साथ ही अब सरकार द्वारा 3200 अस्थाई मान्यता प्राप्त विद्यालयों को बंद करने का षड्यंत्र रचा जा रहा है क्योंकि 3 माह बीतने के बाद भी प्रमाण पत्र नही दिया गया है।आज,प्रदेश के छात्रो में सरकार के प्रति आक्रोश है,और एनएसयूआई हरियाणा प्रदेश की जनता की ओर से मांग करती है कि सरकार समस्याओ के समाधान के आदेश तुरन्त प्रभाव से जनहित में जारी करे।
इस मौके पर विकास दायमा,रोहित नागर,राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य प्रदीप धनखड़, प्रदेश महासचिव दिनेश पोसवाल ,कृष्ण अत्रि प्रदेश सचिव,सुनील,निखिल प्रधान ,प्रिंस स्वरूप,मोहित,विकास,आनंद,दिनेश,हितेश चौधरी ,नितिन,अजय,लोकेश,कुंज बैसोया,प्रतीक,अमित,रोबिन,परविंदर,हरिंदर,अंकित,विपिन,हिमांशु आदि हजारो युवा व छात्र मौजूद रहे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: