Friday, July 20, 2018

घरों से निकले दो बच्चों को सीडब्ल्यूसी ने उनके माता-पिता से मिलाया

फरीदाबाद, 20 जुलाई(abtaknews.com): पिछले दिनों अपने घरों से गायब हुए नाबालिग दो बच्चों को चाईल्ड वेल्फेयर कमेटी के चेयरमैन एचएस मलिक के प्रयासों से ढूंढ निकालने और उन्हें माता-पिता को सौंपने की घटना के बाद फरीदाबाद में सीडब्ल्यूसी तथा फरीदाबाद पुलिस की भूरि-भूरि प्रशंसा हो रही है। उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ माह से घरों से अचानक गायब बच्चों की घटना को संज्ञान में लेते हुए सीडब्ल्यूसी ने तत्परता दिखाते हुए पुलिस को सक्रिय किया और बच्चों को ढूंढ निकालने में सफलता प्राप्त की। समाचार के अनुसार बडखल निवासी 14 वर्षीय सोहेल के घर पर उसकी मेरठ निवासी मौसी आई हुई थी और सोहेल मौसी के साथ मेरठ जाना चाहता था। सोहेल की मौसी जब उसे मेरठ नहीं लेकर गई तो सोहेल पीछे से आटो पकडक़र रेलवे स्टेशन पर आ गया और दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंच गया। यह घटना 4 जुलाई की है। दूसरी ओर सोहेल के घरवालों को उसके घर नहीं पहुंचने से परेशानी हुई और उसके गायब होने की इतला संबंधित पुलिस थाने को दी गई। वहीं दिल्ली के रेलवे स्टेशन पर एक सज्जन ने सोहेल को पुलिस की मदद से दिल्ली के बालग्रह में पहुंचा दिया, जब यह मामला सीडब्ल्यूसी के चेयरमैन एचएस मलिक के संज्ञान में आया तो उन्होंने दिल्ली पुलिस और सीडब्ल्यूसी दिल्ली के चेयरमैनों से संपर्क कर बच्चे को खोज निकाला तथा फरीदाबाद पुलिस की मदद से बच्चे को फरीदाबाद लाया गया। इसी तरह की दूसरी घटना जीवन नगर निवासी 13 वर्षीय ऋतिक 15 जुलाई को घर से चाउमिंग लेने गया था लेकिन घर नहीं लौटा, जिससे परेशान होकर उसके परिजनों ने बच्चे की गुमशुदगी की रिपोर्ट संबंधित थाने को देकर खोजबीन शुरू की। लेकिन ऋतिक भी पिछले दिनों दिल्ली के रेलवे स्टेशन पर संदिग्ध अवस्था में मिला, जिसे सीडब्ल्यूसी के चैयरमैन ने फरीदाबाद पुलिस के सहयोग से बुलवाया और आज दोनों बच्चों को उनके माता-पिता के सुपुर्द किया


loading...
SHARE THIS

0 comments: