Monday, July 30, 2018

बड़ोदरा गुजरात की टीम ने चंडीगढ़ को हरा ट्राफी पर कब्जा किया

Vadodara Gujarat team captures Chandigarh in green trophy

फरीदाबाद(abtaknews.com)आर्दश गांव अटाली स्थित खेल स्टेडियम में आयोजित पैरा क्रिकेट चैम्पियनशिप के फाइनल मुकाबले में बड़ोदरा गुजरात की टीम ने चंडीगढ़ की टीम को हरा दिया। प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में बड़ोदरा गुजरात की टीम के खिलाडिय़ों ने बेहत्तर खेल प्रदर्शन करते हुए 12 ओवरों में 138 रन बनाए। मैच के दौरान गिरिराज जेडज़ा ने 40 बॉल पर 95 रन बनाए और नोट ऑउट रहे। वहीं चंडीगढ की टीम के खिलाड़ी 118 रन ही बना पाए। बड़ोदरा गुजरात की टीम ने 20 रनों से जीत हांसिल कर चैम्पियनशिप की ट्रॉफी अपने नाम कर ली। प्रतियोगिता की विजेता टीम को आईसीएफडी एसोसिएशन के महासचिव ए.डब्ल्यू सिद्धकी व एमबीएल स्कूल के संचालक मास्टर मुकेश कुमार ने ट्रॉफी व 11 हजार रूपए तथा द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाली चंडीगढ़ की टीम को ट्रॉफी व 7100 रूपए की पुरूस्कार राशी प्रदान की।

आईसीएफडी एसोसिएशन के महासचिव ए.डब्ल्यू सिद्धकी ने कहा कि आर्दश गांव अटाली ने पैरा किक्रेट चैम्पियनशिप आयोजित कर एक इतिहास रच दिया है। ग्रामीणों में खेल के प्रति काफी उत्साह देखने को मिला है। ग्रामीणों के उत्साह को देखते हुए पैरा खिलाडियों में भी जोश भर गया। खिलाडियों ने बेहत्तर खेल प्रदर्शन कर जहां अपनी प्रतिभा का जौहर दिखाया वहीं ग्रामीणों को भी खूब मनोरंजन किया। उन्होंने कहा आर्दश गांव अटाली खेलों में अन्य गांवों के मुकाबले आगे है। गांव में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। अगर ग्रामवासियों का सहयोग रहा तो भविष्य में भी पैरा क्रिकेट चैम्पियनशिप यहां आयोजित की जाएगी। विभिन्न राज्यों से आए पैरा खिलाडिय़ों ने ग्रामीणों द्वारा दिए गए स्नेह की भूरी भूरी प्रशंसा की।

प्रतियोगिता के संयोजक हरेंद्र चौधरी ने बताया कि प्रतियोगिता का आयोजन समस्त ग्रामवासियों के सहयोग से किया गया था। प्रतियोगिता में प्रतियोगिता में हरियाणा, उत्तरप्रदेश, चंडीगढ़, बडोदरा गुजरात, झारखंड की टीमों ने भाग लिया। प्रतियोगिता में बेस्ट बेट्स मैन गिरिराज जड़ेजा को चुना गया। बेस्ट बॉलर झाला को चुना गया। मैन ऑफ दी सीरीज देवदत्त चंडीगढ़ को चुना गया। सभी खिलाडिय़ों को उचित ईनाम देकर सम्मानित किया गया। उन्होंने कहा कि आर्दश गांव अटाली में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनना चाहिए ताकि क्षेत्र के युवाओं का आगे बढऩे का मौका मिल सकें।


loading...
SHARE THIS

0 comments: