Saturday, July 28, 2018

फरीदाबाद में बारिश से भरे गड्ढे में डूबने से दो बच्चो की मौत, गांववालो में भारी रोष

Two children died due to rains in Faridabad, heavy rush in villagers

फरीदाबाद(abtaknews.com) जिले में हुआ बड़ा हादसा जहाँ 
बारिश के पानी से भरे गड्ढे में फिसलकर गिरने से दो बच्चो की दर्दनाक मौत हो गयी. यह हादसा 
गाँव डीग स्थित ईंट भट्ठे पर घटित हुआ जहाँ बारिश के पानी के चलते बच्चो को गड्ढे का पता नहीं चला और यह हादसा घटित हो गया. मरने वाले बच्चो की उम्र 11 और 12 साल बतायी जा रही है. इनमे एक बच्चा अपनी माँ की इकलौती औलाद थी और उसका पिता भी नहीं था. इस हादसे के बाद गाववालो में भारी रोष बना हुआ है उनका कहना था की भट्ठे के लिए तीन फ़ीट से जायदा मिटटी नहीं खोदी जा सकती जबकि यहाँ बीस - बीस फ़ीट मिट्ठी खोदकर बड़े - बड़े गड्ढे बना दिए गए है. फिलहाल पुलिस ने दोनों बच्चो के शवों को सरकारी हस्पताल में रखवा दिया है और अब पुलिस सख्त से सख्त कार्यवाही करने की बात कह रही है।   

प्रशासन की लापरवाही के चलते आज असावटी गांव के दो बच्चो को  बारिश से भरे गड्ढो ने लील लिया। दरअसल ईंट भट्ठा मालिकों ने नियमो के विरुद्ध मिटटी खोदते हुए बड़े - बड़े गड्ढे बना डाले है कल से हो रही तेज बारिश के चलते बच्चो को गड्ढो का एहसास नहीं हुआ और इन गड्ढो में गिरने से दो बच्चो की मौत हो गयी. 
मरने वाले बच्चो की उम्र 11 और 12 साल बतायी जा रही है. इनमे एक बच्चा अपनी माँ की इकलौती औलाद थी और उसका पिता भी नहीं था. रोती - बिलखती इस माँ ने बताया की वह एक हस्पताल में जॉब करती है और आज जब वह डियूटी जाने लगी तो बारिश के चलते उसने अपने बच्चे को स्कूल नहीं भेजा। बाद में उसे सूचना मिली की उसका बच्चा गड्ढे में डूब गया है. दुखियारी माँ का कहना था की यही एक बच्चा उसकी ज़िंदगी का सहारा था लेकिन भट्ठा मालिकों की लापरवाही के चलते उसकी दुनिया उजड़ गयी. मुझे मालूम है की अब मेरा बच्चा वापिस नहीं आएगा लेकिन अब वह सिर्फ और सिर्फ इन्साफ चाहती है. वहीँ इस हादसे में मरने वाले दूसरे बच्चे के पिता मनोरंजन पाण्डे का कहना था की भट्ठा मालिकों ने तीन चार फ़ीट मिटटी खोदने की बजाये 20 से 25 फ़ीट मिटटी खोदकर बड़े बड़े गड्ढे बना डाले है जिसके चलते उसके 11 साल के बच्चे की मौत हो गयी और हमारी ज़िंदगी बर्बाद हो गयी।  

गांव निवासी उधम सिंह ने बताया की उनके गांव में बड़ा हादसा हुआ है जिसमे दो बच्चो की जान चली गयी इनमे एक बच्चे का तो पिता भी नहीं है और अकेली माँ का इकलौता बेटा था. आज बारिश की वजह से बच्चे स्कूल नहीं गए और भट्ठे की तरफ चले गए जहाँ बारिश के पानी की वजह से इन गड्ढो का पता नहीं चला और बच्चो की मौत हो गयी. नाजायज तरीके से भट्ठे वालो ने यहाँ जरुरत से जायदा मिटटी खोदकर बड़े बड़े गड्ढे बना दिए है. इसके बावजूद भट्ठे वालो ने यहाँ कोई चौंकीदार भी नहीं रखा हुआ था इसलिए पूरे गांव में भारी रोष है और हम चाहते है की भट्ठा मालिक के खिलाफ सख्त कार्यवाही हो।            

 
मौके पर पहुंचे सब इन इंस्पेक्टर यादराम ने बताया की उन्हें दो बच्चो के डूबने की कंट्रोल रूम से सूचना मिली थी जिस पर वह मौके पर पहुंचे और गड्ढे से बच्चो के शव निकलवाए। उनका कहना था की परिजनों की शिकायत पर पुलिस सख्त से सख्त कार्यवाही करेगी।



loading...
SHARE THIS

0 comments: