Thursday, July 26, 2018

बरसात से एनआईटी विधान सभा का है बुरा हाल ; पूर्व वरिष्ठ उपमहापौर मुकेश शर्मा

NIT Legislative Assembly is bad in the rain; Former Senior Deputy Mayor Mukesh Sharma
फरीदाबाद, 26 जुलाई(abtaknews.com) नगर निगम के पूर्व वरिष्ठ उपमहापौर मुकेष शर्मा ने कहा कि मानसून की पहली बरसात ने निगम के दावों की पोल खोलकर रख दी है। आज हुई बरसात से जवाहर कालोनी, नंगला इंक्लेव, डबुआ कालोनी, कपड़ा कालोनी, 60 फुट रोड, गुरूद्वारा रोड जलमग्न हो गया और सड़कों का गंदा पानी लोगों के घरों में घुस गया है जिससे हजारों लोग परेषान हो रहे है। जगह-जगह सीवरेज ओवरपफलो होने से गंदा पानी गलियों और घरों में घुस गया है और गंदगी और बदबू से लोगों का घरों से बाहर निकलना दुष्वार हो रहा है। उन्होंने कहा कि निगम में रोज-रोज होने वाली सफाई कर्मचारियों और ड्राइवरों की हड़ताल का असर भी शहर की सफाई व्यवस्था पर पड़ा है। अगर सरकार इन कर्मचारियों की मांगों का समाधान समय पर कर देती तो प्रतिदिन हड़ताल करने की नौबत नहीं आती और स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में साफ-सफाई व्यवस्था तो दुरूस्त रहती और स्मार्ट सिटी फरीदाबाद नंबर-1 कहलाता।

नगर निगम के पूर्व वरिष्ठ उपमहापौर ने बताया कि यहां के स्थानीय निवासी निगम के अधिकारियों को इन कालोनियों के सीवरओवर फलो, सीवरेज जाम और गंदे पानी की निकासी के लिए कई बार षिकायत कर चुके है परन्तु उनके कानों पर अभी तक कोई जूं नहीं रेंग रही है और आज स्थिति यह हो गई है कि रोड पर भरे बरसाती पानी को निकालने के लिए भी निगम ने अभी तक कोई इंतजाम नहीं किए है। उन्होंने बताया कि मानसून आने से पहले 60 फुट रोड से डबुआ कालोनी तक बने नाले की सफाई का काम भी निगम अधिकारियों ने नहीं करवाया है और नाले का गंदा पानी सड़कों के दोनों तरफ लबालब भरा हुआ है अब यह गंदा पानी सड़क से क्षेत्र की गलियों में भरता जा रहा है। इससे यहां के निवासी और दुकानदारों का बदबू व गंदगी में रहना मुश्किल हो रहा है और वह नारकीय जीवन जीने को मजबूर हो रहे है। पूर्व वरिष्ठ उपमहापौर मुकेष शर्मा ने बताया कि नगर निगम ने कहीं भी किसी भी क्षेत्र में जलभराव, सीवरेज जाम, सीवरेज ओवर फलो और सफाई व्यवस्था को लेकर हेल्प लाइन नंबर तो जारी कर दिए है परन्तु उन हेल्प लाइन नंबरों को उठाने वाला कोई भी नहीं होता और अगर कभी-कभार कोई षिकायत दर्ज भी कर लेता है तो उक्त समस्या का समाधान नहीं हो पाता। उन्होंने बताया कि जनहित को देखते हुए सफाई व्यवस्था और पीने के पानी की समस्या सहित अन्य समस्याओं के लिए नगर निगम के हर वार्ड में जनसुविधा केन्द्र स्थापित किए हुए है जिससे लोगों की समस्याओं का समाधान समय पर हो सकें परन्तु निगम अधिकारियों की लापरवाही के चलते उक्त जनसुविधा केन्द्रों पर लोगों की समस्याओं का समाधान तो समय पर नहीं हो पा रहा है उल्टे उन्हें और अत्यधिक परेषानियों से जूझना पड़ रहा है।

loading...
SHARE THIS

0 comments: