Wednesday, July 4, 2018

बिजली-पानी की किल्लत के खिलाफ कांग्रेसियों ने मुख्यालय पर फोड़े मटके और ट्यूबलाइटें

Congressmen set fire to the headquarters and the tube lights against the failure to give electricity and water

फरीदाबाद, 4 जुलाई,2018(abtaknews.com) बिजली पानी की समस्या को लेकर कांग्रेस पार्टी के जिला प्रभारी मोहम्मद बिलाल के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने निगम मुख्यालय पर बुधवार को उग्र प्रदर्शन किया। विरोध स्वरूप ट्यूबलाइट और मटके भी फोड़े। इससे पहले प्रदर्शनकारी कांग्रेसी नेताओं ने बीके चौक से नीलम चौक तक पैदल मार्च निकाला। नीलम चौक से वापस निगम मुख्यालय में कमिश्नर कार्यालय के दरवाजे पर आकर नारेबाजी। कमिश्नर कार्यालय में नहीं थे, इसलिए कर्मचारियों ने कार्यालय के दरवाजे बंद कर लिए। कर्मचारियों के रवैये से नाराज होकर प्रदर्शनकारियों ने जबरदस्त नारेबाजी शुरू कर दी। आखिरकार ज्वाइंट कमिश्नर प्रदर्शनकारियों से मिलने के लिए पहुंचे और उन्होंने तसल्ली से बातचीत सुनी। प्रदर्शनकारियों ने ज्वाइंट कमिश्नर को ही ज्ञापन भी सौंपा।

इस मौके पर पूर्व विधायक आनंद कौशिक, राजेन्द्र शर्मा, विकास चौधरी, राकेश भड़ाना, सत्यवीर डागर, एसएल शर्मा, ज्ञानचंद आहूजा, सुमित गौड़, किरण गोदारा, बलजीत कौशिक ने सामूहिक रूप से कहा कि खट्टर सरकार के विधायक मंत्रियों की करतूत देखिए, बिजली.पानी से त्रस्त जनता यदि निवास पर जाकर विरोध जताए तो उन्हें हवालात में बंद करवाया जा रहा है। कांग्रेस नेताओ ने कहा कि सरकार के जो नुमाइंदे अपने क्षेत्र की जनता को दैनिक जरूरतों के मुताबिक सुविधाएं नहीं दिलवा पा रहे हैं, ऐसे विधायक, मंत्रियों को नैतिकता के आधार पर इस्तीफे दे देने चाहिए। बिजली कटौती के कारण पेयजल आपूर्ति भी नहीं हो पा रही है। उमस और गर्मी में लोगों की दिन का चैन और रात की नींद छीन गई है।

मोहम्मद बिलाल ने दावा किया यदि तुरंत चुनाव हो तो भाजपा को प्रदेश में एक भी सीट नहीं मिलेगी। जनता भाजपा को देश और प्रदेशों से उखाड़ फेंकने के लिए तैयार बैठी है। जिले में कई क्षेत्र ऐसे हैं, जहां सप्ताह भर से न बिजली और न ही पानी आ रहा है। उमस और गर्मी में लोगों पर क्या बीत रही हैए यह तो जनता ही जानती है। सीएम और उनके विधायक-मंत्री तो एयरकंडीशन गाडिय़ों में घूम रहे हैं, दफ्तरों में एसी चलाकर बैठे हैं। जनता को सपने दिखाने के लिए रोजाना नए-नए हथकंडे अपना रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने जनता से जो वायदे किए थे, वे पूरे नहीं कर पाई। महंगाई, बेरोजगार और भुखमरी को बढ़ावा मिला है। इसी कारण से प्रदेश में अपराध का ग्राफ भी बढ़ गया है।विरोध प्रदर्शन में मुख्य रूप से डॉक्टर धर्मदेव आर्य, नरेश गोदारा, अनिशपाल, जीसी आहूजा, विजय कौशिक, राजेश आर्य, अनीशपाल, ललित भड़ाना, डा.सौरभ शर्मा, सुरेंदर, सीमा जैन, नरेश गोदारा, मनोज अग्रवाल, आशा गुप्ता, मालवती, ममता, सरला, प्रतिमा शामिल थे।



loading...
SHARE THIS

0 comments: