Tuesday, July 24, 2018

फरीदाबाद में ट्रांसपोर्टरों की हडताल पांचवे दिन भी जारी, हररोज100 करोड़ राजस्व का नुकसान


फरीदाबाद(abtaknews.com) 24जुलाई,2018;  ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट के आह्वान पर प्रदेशभर के ट्रांसपोर्टर अपनी मांगों को लेकर 20 जुलाई से हड़ताल पर हैं। फरीदाबाद में पांचवे दिन भी ट्रांसपोर्टर हडताल जारी है, इससे फरीदाबाद में चलने वाले कमर्शियल 25000 ट्रकों के पहिए थम गए। जिसके चलते प्रतिदिन अकेले औद्योगिक नगर फरीदाबाद से राजस्व को करीब 100 करोड रूपये का नुक्सान हो रहा है। शहर में उद्योगपतियों ने भी अब माल बनाना बंद कर दिया है और माल बन चुका है उसे रखने के लिये उनकी कंपनी में जगह नहीं हैं। उन्हें उम्मीद है कि सरकार जल्द ही ट्रांसपोर्टरों की मांग मानकर उद्योगपतियों को इस मुश्किल से निकालेगी।

डीजल की कीमतों में कमी, राष्ट्रीय स्तर पर समान मूल्य निर्धारण, डीजल कीमतों में त्रैमासिक संशोधन, डीजल को जीएसटी में शामिल करने, टोल बैरियर मुक्त करने, बसों और पर्यटन वाहनों के नेशनल परमिट देने जैसी मांगों को लेकर ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट के आह्वान पर प्रदेशभर के ट्रांसपोर्टर 20 जुलाई से हड़ताल पर है, फरीदाबाद में ट्रांसपोर्टरों की हडताल पांचवे दिन भी जारी रही, जिसके चलते फरीदाबाद से देशभर के विभिन्न हिस्सों में भेजे जाने वाले सामान पर असर पडऩे लगा है। 

फरीदाबाद के उद्योगपतियों नवदीप चावला, कर्नल कपूर, खेमका ने बताया कि शहर की कंपनियों में माल बनकर तैयार रखा हुआ है मगर ट्रांसपोर्टरों की हडताल के चलते नहीं जा पा रहा है और कंपनियों के अंदर इतनी जगह नहीं है कि माल को एकत्रित करके रख सके, जिसके कारण कुछ कंपनियों ने तो सामान बनाना बंद कर दिया है जिससे कामगारों कर भी छुट्टी कर दी गई। प्रतिदिन अकेले औद्योगिक नगर फरीदाबाद से राजस्व को करीब 100 करोड रूपये का नुक्सान हो रहा है। उद्योगपतियों को उम्मीद है कि सरकार जल्द ही ट्रांसपोर्टरों की मांग मानकर उद्योगपतियों को इस मुश्किल से निकालेगी।


loading...
SHARE THIS

0 comments: