Thursday, June 21, 2018

वाईएमसीए विश्वविद्यालय में योग दिवस पर खिलाड़ियों ने दिखाई योग प्रतिभा


Yoga talents show on Yoga Day at YMCA University

फरीदाबाद, 21 जून,2018(abtaknews.com) वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालयए फरीदाबाद द्वारा आज विश्वविद्यालय परिसर में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन किया गया। इस आयोजन में लगभग 300 प्रतिभागियों ने योगाभ्यास में हिस्सा लिया। भारतीय शिक्षा मंडल, संघ, फरीदाबाद जिला योग संघ तथा वर्धमान महावीर सोसाइटी, फरीदाबाद ने सहयोगी संस्थानों के रूप में आयोजन में हिस्सा लिया।बड़खल से विधायक सीमा त्रिखा कार्यक्रम में मुख्य अतिथि रही तथा योग सत्र में हिस्सा लिया। कार्यक्रम में सहयोगी संस्थानों के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं के अलावा काफी संख्या में विश्वविद्यालय के शिक्षणेत्तर व गैर-शिक्षणेत्तर कर्मचारी, उनके परिवार के सदस्य तथा विद्यार्थी सम्मिलित हुए।

कार्यक्रम का आरंभ कुलपति प्रो. दिनेश कुमार की उपस्थिति में दीप प्रज्वलन से हुआ। इसके उपरांत विभिन्न प्रकार की योगासन क्रियाएं की गई। योग सत्र में योगासन की सभी क्रियाएं योग विशेषज्ञों की देखरेख में संपन्न हुई। योग सत्र के दौरान सामान्य योग अभ्यासक्रम की अनुपालना करते हुए विभिन्न 15 योगासन करवाये गये। इसके अलावा, कपालभाति और प्राणायाम की योगिक क्रियाएं भी की गई। इस अवसर पर फरीदाबाद जिला योग संघ तथा मानवीय निर्माण मंच के प्रशिक्षुओं द्वारा विभिन्न योगिक क्रियाओं तथा मलखंब की प्रस्तुति दी गई, जिसे काफी सराहा गया। योग सत्र का आयोजन डिप्टी डीन (विद्यार्थी कल्याण) डॉ. सोनिया बंसल की देखरेख में किया गया।

कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने विद्यार्थियों को स्वस्थ एवं संपूर्ण जीवन शैली के लिए योग अभ्यास की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे योग दिवस को केवल एक दिवस या आयोजन न बनाकर इसे अपनी दैनिक दिनचर्या का हिस्सा बनायेंगे। योग दिवस पर के महत्व पर प्रकाश डालते हुए प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र संघ महासभा द्वारा 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाये जाने की घोषणा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 27 सितम्बर, 2014 को संयुक्त राष्ट्र संघ महासभा में रखे गये प्रस्ताव पर की गई थी। इस प्रकार, अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को मनाना देश के लिए गौरव की बात है। उन्होंने कहा कि योग प्राचीन भारतीय वैदिक संस्कृति का हिस्सा है जो पूरी दूनिया को भारत के साथ जोड़ता है और भाईचारे व शांति को बढ़ावा देता है।

इस अवसर पर कुलपति ने विभिन्न राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर योग में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए वाईएमसीए विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों तथा फरीदाबाद जिला योग संघ तथा मानवीय निर्माण मंच के प्रशिक्षुओं को पुरस्कृत किया। उन्होंने योग सत्र में हिस्सा लेने वाले गणमान्य व्यक्तियों को स्मृति चिन्ह भी भेंट किया।कार्यक्रम का समापन पर निदेशक, सांस्कृतिक एवं विद्यार्थी मामले डॉ. प्रदीप डिमरी ने सभी प्रतिभागियों को दैनिक जीवन में योग अपनाने को लेकर संकल्प दिलवाया और सभी प्रतिभागियों को रिफरेशमेंट दी गई।

loading...
SHARE THIS

0 comments: