Wednesday, June 27, 2018

केन्द्र सरकार ने हर क्षेत्र तथा प्रत्येक वर्ग के हित में किया है कार्यः विपुल गोयल

The Central Government has done in the interest of every sector and every section: Vipul Goyal

फरीदाबाद, 27 जून(abtaknews.com)हरियाणा के पर्यावरण तथा उद्योग मंत्री श्री विपुल गोयल ने सरकार द्वारा चलाये जा रहे जनसम्पर्क अभियान के अंतर्गत वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, फरीदाबाद के कुलपति प्रो. दिनेश कुमार से विश्वविद्यालय स्थित उनके निवास पर मुलाकात की तथा उन्हें केन्द्र सरकार के चार वर्षाें के कार्यकाल की उपलब्धियों की पुस्तिका भेंट की। कैबिनेट मंत्री श्री गोयल ने कुलपति के साथ विश्वविद्यालय की विकास गतिविधियों पर चर्चा भी की। 
इस अवसर पर कुलपति प्रो. दिनेश कुमार की धर्मपत्नी डॉ. रंजना अग्रवाल भी उपस्थित थीं। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार ने हर क्षेत्र तथा प्रत्येक वर्ग के हित में कार्य किये है। उन्होंने सरकार की लोक कल्याणकारी उज्ज्वला योजना, ग्रामीण ज्योति योजना तथा जनधन योजना के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा चलाई जा रही ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ तथा स्वच्छता अभियान का जन-आंदोलन के रूप में सभी से पूरा सहयोग मिला है और इन अभियानों के साकारात्मक परिणाम देखने को मिले है। उन्होंने कहा कि सरकार ने युवाओं के कौशल विकास तथा उनके लिए रोजगार के नये अवसर सृजित करने को प्राथमिकता दी है। सरकार के फ्लैगशिप कार्यक्रमों जैसे कौशल भारत, स्टॉर्ट-अप, डिजिटल इंडिया तथा मेक इन इंडिया का मुख्य केन्द्र युवा है। सरकार का लक्ष्य युवा का कौशल विकास है ताकि रोजगार के लिए जरूरी प्रशिक्षण प्राप्त कर युवा रोजगार के अवसरों का लाभ उठा सके। उन्होंने कहा कि वाईएमसीए विश्वविद्यालय का फरीदाबाद के औद्योगिक विकास में अहम योगदान है और मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में राज्य सरकार विश्वविद्यालय के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। 
कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कैबिनेट मंत्री को विश्वविद्यालय में चल रहे विकास कार्याें से अवगत करवाया। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय द्वारा कर्मचारियों के लिए आवास, नये क्लास रूम तथा प्रयोगशालाओं का निर्माण, नये शैक्षणिक खण्ड, छात्रावास जैसी विभिन्न विकास परियोजनाओं पर कार्य किया जा रहा है। विश्वविद्यालय ने सरकार के कौशल भारत, स्टॉर्ट अप तथा डिजिटल इंडिया जैसे कार्यक्रमों को निरंतर बढ़ावा दिया गया है। विश्वविश्वविद्यालय द्वारा संचालित कम्युनिटी कालेज में कौशल आधारित कई पाठ्यक्रम करवाये जाते है और आगामी सत्र से कालेज की कौशल आधारित नये पाठ्यक्रम शुरू करने की भी योजना है, जिसमें 15 दिन से पांच साल की अवधि के सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, एडवांस डिप्लोमा तथा अंडर ग्रेजुएट स्तर के व्यवसायिक पाठ्यक्रम शुरू होंगे। कम्युनिटी कालेज में नये पाठ्यक्रमों को शुरू का उद्देश्य युवाओं को कौशल आधारित रोजगारोन्मुखी प्रशिक्षण प्रदान करना है ताकि वे रोजगार के अवसरों का बेहतर ढंग से लाभ उठा सके। इस अवसर पर उन्होंने कैबिनेट मंत्री को विश्वविद्यालय में चल रहे विकास कार्याें से भी अवगत करवाया तथा सरकार के चार साल के कार्यकाल की सफलता बधाई भी दी।
---------------------------

loading...
SHARE THIS

0 comments: