Saturday, June 30, 2018

पलवल में पहुंचे हरियाणा विमुक्त घुमन्त जाति विकास बोर्ड के सदस्य जशमेर सिहं बंजारा

Jashmeer Singh Banjara, a member of the Vimukta Ghumant Jati Vikas Board, reached Palwal.
पलवल, 30 जून(abtaknews.com)स्थानीय महात्मा गांधी सामुदायिक केंद्र एवं पंचायत भवन में विमुक्त घुमन्तू, अर्धघुमंतू व टपरीवास जाति के लोगों के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में जागरूक करने हेतु एक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में विमुक्त घुमन्तू जाति विकास बोर्ड हरियाणा सरकार के सदस्य जशमेर सिहं बंजारा ने बतौर मुख्यतिथि शिरकत की। 
इस अवसर पर जयंती सदस्य ईश्वर सिंह घनघौत, नागरिक अस्पताल के चिकित्सा अधिकारी डा. संजय शर्मा, जिलाध्यक्ष बंजारा समाज कुरूक्षेत्र सूबेदार यशपाल सिंह, जिलाध्यक्ष सोनीपत संजय, जिलाध्यक्ष भिवानी मास्टर संत सिंह, महासचिव बंजारा समाज जगपाल सिंह, मीडिया प्रभारी रवि, जगदीश ईढरी, गांव गेलपुर के सरपंच सुरेंद्र, रमेश घुघेरा, पंचायत अधिकारी धर्मपाल, जिला समाज कल्याण विभाग के खूबचंद, मुबारक, जिला कल्याण विभाग के सहायक श्यामवीर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।शिविर में पंचायत विभाग, समाज कल्याण विभाग व कल्याण विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों ने अपने-अपने विभाग से संबंधित सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में लोगों को जानकारी देकर जागरूक किया।  

हरियाणा विमुक्त घुमन्त जाति विकास बोर्ड के सदस्य जशमेर सिहं बंजारा ने कहा कि प्रदेश सरकार ने विमुक्त घुमन्तू, अर्धघुमंतू व टपरीवास जातियों के उत्थान के लिए विमुक्त घुमन्तू जाति विकास बोर्ड का गठन किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने पहली बार यह पहल की है ताकि विमुक्त घुमंतू, अर्धघुमंतू व टपरीवास जातियों को सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिल सकें। श्री बंजारा ने  कहा कि विमुक्त घुमन्तू जातियों में सपेरा, नट, कंजर, बंजारा आदि जाति के लोग आते है। लेकिन लोगों में जागरूकता न होने के कारण उन्हें सरकार की योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाता था। वर्तमान सरकार का लक्ष्य है कि सरकार की योजनाओं का लाभ सभी जातियों के अंतिम व वंचित व्यक्ति तक पहुंचे। जिसके लिए प्रत्येक जिले में जागरूकता कैंप आयोजित किए जा रहे है। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा भी पूरा सहयोग प्रदान किया जा रहा है। 



उन्होंने कहा कि सरकार का उद्देश्य विमुक्त घुमन्तू, अर्धघुमंतू व टपरीवास जातियों के लोगों को आवास व रोजगार उपलब्ध करवाना है, जिसके लिए प्रदेश सरकार द्वारा बनाए गए बोर्ड के सदस्य विमुक्त घुमन्तू, अर्धघुमंतू व टपरीवास जातियों के लोगों को एकजुट करने में लगे हुए है। जिला में विमुक्त घुमन्तू जातियों की संख्या जिले में लगभग 70 हजार के करीब है। सभी को समाज की मुख्यधारा में शामिल किया जाएगा। इस मौके पर गांव गेलपुर के सरपंच सुरेंद्र ने विमुक्त घुमन्तू जाति विकास बोर्ड हरियाणा सरकार के सदस्य जशमेर सिहं बंजारा का शॉल उढाकर व फूलमालाएं पहनाकर स्वागत किया।


loading...
SHARE THIS

0 comments: