Friday, June 22, 2018

अपनी मांगों को लेकर आंगनवाड़ी वाड़ी वर्करों ने किया प्रदर्शन, की नारेबाजी

Aanganwadi wadi workers protested against their demands

फरीदाबाद, 22 जून(abtaknews.com) आंगनवाड़ी में खाना बनाने वाली मदरग्रुप की महिलाओं एवं बाल विकास अधिकारी(पीओ) के कार्यालय पर सैकड़ों महिलाओं ने धरना दिया। जिसमें जनवादी महिला समिति की राज्य उपाध्यक्षा ऊषा सरोहा ने सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार मदर ग्रुप की महिलाओं के साथ अनदेखी व अन्याय कर रही है। ये महिलाएं पिछले 11 सालों सेे आंगनवाड़ी में खाना बनाने का काम करती है। जिनको मजदूरी लगातार का पूरा दिन छह-छह घंटे काम करने के बाद भी पूरा महीने के 300 रूपए मिलते है, वो भी पिछले एक साल से नहीं मिलें। मामूली मेहनताने के लिए भी कम पैसे में ज्यादा से ज्यादा काम करने को मजबूर हो रही है।

मदर ग्रुप जिला की प्रधान सुदेश व उपप्रधान नजरीव सचिव अनिता ने सत्ता में अच्छे दिन का वादा करके आने वाली भाजपा सरकार ने आते ही तानाशाही रूख अपनाने हुए बजट की कमी बताकर हमारे काम के दिन घटा दिए है।सप्ताह में तीन दिन हेल्पर व तीन दिन मदरग्रुप की महिलााओं से खाना बनवाया जा रहा है, इससे मदर ग्रुप की महिलाओं का मेहनताना घट गया है। हमारी मांग है कि हमारा एक साल से रूका हुआ मेहनताना दिया जाए। पूरा सप्ताह मदर ग्रुप के काम करवाया जाए। सभी महिलाओं खाता खोलकर मेहनताना सीधा खाते में डाला जाए। उन्होंने कहा कि अगर सरकार नहीं मानी तो मदर ग्रुप समिति के आह्वान पर आगामी 15 जुलाई को करनाल में महापड़ाव डाला जाएगा। जिसमें फरीदाबाद से भी सैकड़ों महिलाएं भाग लेगी। सर्व कर्मचारी संघ के जिला सहसचिव धर्मवीर वैष्णव ने कहा कि सरकार इन महिलाओं से मुफ्त में काम ले रही है। ये महिलाएं गरीब परिवारों से संबंध रखती है। इनकी हालात बहुत ही दयनीय है। सरकार इनकी मांगों को गंभीरता से लें व बकाया मेहनताना तुरन्त दिया जाए। धरने प्रदर्शन में महिला सरकार विरोधी नारे लगा रही थी। उन्होंने पीओ से मिलने की कोशिश की लेकिन वो नहीं मिली।


loading...
SHARE THIS

0 comments: