Saturday, June 23, 2018

फरीदाबाद में सजी धजी दुल्हन दुल्हे का करती रही इंतजार, दूल्हे ने माँगा एक करोड


 
Waiting for bride groom bridegroom in Faridabad, waiting for the groom,

फरीदाबाद(abtaknews.com) 23 जून। दहेज का दानव हमारे समाज में सदियों से जिन्दा है जिसे खत्म करने के लिए हमारे समाज के लोगो ने भरसक प्रयास किया और करते रहे है।  सरकार भी इस दानव को खत्म करने के लिए तरह -तरह के हतकण्डे अपनाती रहती है। लेकिन दहेज़ रुपी दानव है की खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है फरीदाबाद से जहाँ  दहेज में एक करोड़ रुपये नकद और जगुआर गाडी की मांग पूरी न होने पर  नई दिल्ली कापसहेड़ा निवासी लडका पक्ष बरात ही लेकर फरीदाबाद दुल्हन के घर नहीं पहुंचा। सराय ख्वाजा क्षेत्र में रहने वाला लडकी पक्ष पूरी तैयारियां करके बरात का इंतजार करते रहे। दुल्हन के पिता ने 51 लाख रुपए तक नगद देने के लिये कहा फिर भी दहेज के लोभी नहीं माने। जिसपर लडकी पक्ष ने सराय ख्वाजा थाना पुलिस को शिकायत दी है। पुलिस ने दहेज व रुपयों के लिए दबाव बनाने की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

फरीदाबाद सराय ख्वाजा क्षेत्र से दहेज का हाई प्रोफाईल मामला सामने आया है जहां लडकी पक्ष ने सराय ख्वाजा थाने में पुलिस को शिकायत दी है कि उन्होंने बेटी की शादी कापसहेड़ा नई दिल्ली निवासी स्वप्निल के साथ तय की थी। 16 जून को लडकी पक्ष लगन लेकर लडके के घर गये थे, जहां लगन में 31 लाख रुपये का चेक दिया गया। अगले दिन लडका पक्ष ने चेक को लेकर आपत्ति जताते हुए फोन किया और एक करोड़ रुपये नकद व जगुआर कार दिए जाने की मांग की। लडकी पक्ष ने अपनी हैसियत के अनुसार कहा कि विदाई पर 21 लाख रुपये का एक चेक और दे देंगे, मगर लडका पक्ष एक करोड़ रुपये नकद दिए जाने पर ही अड़ गया। बातचीत चलती रहीं लडकी पक्ष को उम्मीद थी कि मामला सुलझ जाएगा, इसलिए वे शादी की तैयारियों में जुटे रहे। बडखल झील के पास शादी के लिए बैंक्वेट हॉल भी बुक कर दिया गया। बृहस्पतिवार 20 जून की रात बरात आनी थी। वधू पक्ष पूरी तैयारी के साथ इंतजार करता रहा, मगर बरात नहीं आई। आखिर फोन करके पूछा गया तो वर पक्ष ने अपनी मांग दोहरा दी और बरात लेकर आने से साफ इंकार कर दिया। 

दुल्हन के पिता ने बताया कि आरोपियों ने एक करोड़ रूपये और जेगुआर कार की डिमांड कर दी जिसको वह पूरा नहीं कर सके तो दूल्हा पक्ष बरात लेकर उनके घर नहीं पहुंचा ,उन्होंने शादी की पूरी तैयारी कर रखी थी, अब दुल्हन और दुल्हन के पिता आरोपियों के खिलाफ सख्त -सख्त क़ानूनी कारवाही चाहते है। 

दुल्हन ने बताया कि मेरी शादी ऐसे दहेज़ लोभियो के साथ नहीं हुई यह अच्छा हुआ अन्यथा आरोपी उसके साथ दहेज़ की मांग को लेकर किसी भी हद तक जा सकते थे। दुल्हन चाहती है की समाज में ऐसे लोगों का बहिष्कार होना चाहिए। इस मामले में सराय ख्वाजा थाना प्रभारी महेश कुमार का कहना है कि उन्होंने दूल्हे ,दूल्हे की माँ के अलावा 6 सदस्यों के खिलाफ दहेज व रुपयों के लिए दबाव बनाने की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है, मामले की जांच की जा रही है। 


loading...
SHARE THIS

0 comments: