Monday, June 25, 2018

विधायक नगेन्द्र भड़ाना के सर्घष की बदौलत बूचडख़ाने मामले में हुई भारी जीत

                 
                                                                       
फरीदाबाद,25 जून(abtaknews.com) एनआईटी विधायक नगेन्द्र भड़ाना द्वारा पिछले कई दिनों से पाली व गोठड़ा मोहबताबाद के पहाड़ पर बनाए जा रहे बूचडख़ाना को हटाने के लिए चलाए जा रहे अभियान को आज भारी सफलता मिली जब नगर निगम सभागार में आयोजित सदन की बैठक में सभी पार्षदों ने महापौर सुमन बाला, निगमायुक्त मोहम्मद शाहन,वरिष्ठ उपमहापौर देवेन्द्र चौधरी व उपमहापौर मनमोहन गर्ग की उपस्थिति में इस बूचडख़ाने को नहीं लगने देने का प्रस्ताव पास किया। नगर निगम सभागार के बाहर इकठठ हुए हजारों लोगों को जैसे ही महापौर सुमन बाला, विधायक नगेन्द्र भड़ाना,वरिष्ठ उपमहापौर देवेन्द्र चौधरी व उपमहापौर मनमोहन गर्ग ने प्रस्ताव के पारित होने की जानकारी बाहर आकर दी मानों लोगों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा लोग नाचने लगे और मुख्यमंत्री मनोहलाल जिन्दाबाद,केन्द्रीय राज्यमंत्री चौ. कूष्णपाल गुर्जर,विधायक नगेन्द्र भड़ाना जिन्दाबाद,देवेन्द्र चौधरी जिन्दाबाद और सभी पार्षद जिन्दाबाद के नारे लगाने लगे। इससे पहले सदन में प्रस्ताव पारित होने पर विधायक नगेन्द्र भड़ाना ने कहा कि आज सचमुच जनता जनार्दन की जीत हुई है। उन्होनें कहा कि वे एनआईटी विधानसभा क्षेत्र की जनता की तरफ से प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी,केन्द्रीय राज्यमंत्री चौ.कृष्णपाल गुर्जर,गरिमामयी सदन,धार्मिक सामाजिक संगठनों व एनआईटी की मौजिज सरदारी और खासकर लोगों का जिन्होनें इतना भारी गर्मी में आकर इस सर्घष में अपना योगदान दिया का आभार व धन्यवाद प्रकट करता हु्र जिनके सहयोग से इतनी बड़ी सफलता मिली है। सदन में ही पार्षद राकेश भड़ाना ने यह प्रस्ताव रखा था कि जिन लोगों ने भावनाओं में बहकर वहां तोडफ़ोड़ की उनके खिलाफ मुकदमों को वापिस लिया जाए जिसका सभी पार्षदों नें समर्थन किया इसके लिए भी विधायक नगेन्द्र भड़ाना ने उनका धन्यवाद किया। इस अवसर पर नगेन्द्र भड़ाना ने कहा कि यह जनता की एकता की जीत है  उन्होनें कहा कि वैसे तो देश में दिवाली,गुरूपर्व,ईद,क्रिसमस अलग अलग दिन मनाए जाते है लेकिन मेरी विधानसभा में यह त्यौहार आज ही के दिन मनाया जा रहा है इस बूचडख़ाना के निरस्त होने की खुशी में। नगेन्द्र भड़ाना ने कहा कि जिस तरह एनआईटी विधानसभा के लोगों ने इस अभियान को एक चैलेज के तौर पर लिया और प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर अपना महत्वपूर्ण योगदान देकर इसमें विजय दिलाई वो वाकई में काबिले तारीफ है। उन्होनें कहा कि बूचडखाना निरस्त कराके अभी उनकी जिम्मेवारी खत्म नहीं हुई है वे जल्दी ही एक प्रतिनिधिमंडल के प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी से मिलेगें और अपील करेगें कि अरावली क्षेत्र को हरा भरा बनाने के लिए इसमें हर्बल पार्क विकसित किया जाए जिसमें जड़ी बूटियां, औषधीय पौधे तथा पीपल व नीम के पौधे लगाए जाएं जिससे की शहरवासियों को स्वच्छ वायु के साथ साथ उनके स्वास्थय का भी ध्यान रखा जा सके।


loading...
SHARE THIS

0 comments: