Saturday, May 12, 2018

फरीदाबाद में दर्जनो युवको ने ली इनैलो पार्टी की सदस्यता

Faridabad: Dozens of youths subscribe to Lee Inno Party
फरीदाबाद 12 मई,(abtaknews.com )जिला कार्यालय सेक्टर 11 फरीदाबाद पर कृष्ण पहल के नेतृत्व में राजीव शर्मा, गोपी चन्द, संजय कुमार, हिमांशु, सुनील, रिषभ इत्यादि  इनैलो पार्टी में शामिल हुए| कृष्ण पहल ने इस मोके पर कहा कि इनैलो पार्टी के नेता चाहे चौ. ओमप्रकाश चौटाला हों, चाहे दूसरे नेता हों, सभी कार्यकर्ता का सम्मान करते हैं, इनैलो पार्टी चाहे अमीर हो, चाहे गरीब, चाहे छोटा हो चाहे बड़ा कार्यकर्ता सभी को एक नजर से देखती है, इसी बात को लेकर मैं आज साथियों सहित इनैलो पार्टी में शामिल हुआ हूँ | उन्होंने इनैलो जिला अध्यक्ष चौ. देवेन्द्र सिंह चौहान को विश्वास दिलाया कि मुझे किसी पद की लालसा नहीं है और मैं निःश्वार्थ भाव से चौ. देवी लाल की विचार धारा से प्रेरित होकर इनैलो पार्टी जो किसान व कमरे वर्ग के हितों में रक्षा करने वाली पार्टी है, उन्होंने जिला अध्यक्ष चौ. देवेन्द्र सिंह चौहान को विश्वास दिलाया कि मैं आजीवन निःश्वार्थ भाव से पार्टी के लिए कार्य करता रहूंगा | 
इस मौके पर चौ. देवेन्द्र सिंह चौहान ने इनैलो पार्टी में शामिल हुए कृष्ण पहल व उसके नेतृत्व में शामिल हुए सभी साथियों को विश्वास दिलाया कि आपको  पार्टी में पूरा मान - सम्मान किया जायेगा |  इस सरकार में चाहे देहात या शहर, युवा हो या बुजर्ग, माता हो या बहन सभी इस सरकार से तंग हैं, और कोई भी वर्ग इस सरकार से खुश नहीं है, घोषणा पत्र में 154 वायदे किए गए थे, एक भी वायदा पूरा नहीं हुआ है, स्मार्ट सिटी की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि यहां गंदगी की भरमार है, चारों  तरफ बदबू आ रही है, रोड टूटे पड़े हैं, बिजली आ नहीं रही है, उन्होंने स्मार्ट सिटी का दर्जा देने का बाद फरीदाबाद में कोई भी कार्य नहीं हुआ है, एक कहावत चल रही है बिजली गुल - बिजली का बिल फुल | दवाओं में भ्रष्टाचार हो रहा है | उन्होंने आगे कहा  कि कोई मदर यूनिट लगाना तो दूर की बात भाजपा के राज में फरीदाबाद में बाटा कम्पनी भी  बंद हो गई है, यामाहा  कम्पनी भी बंद होने के कगार पर है, यह सरकार सिर्फ अडानी और अम्बानी के लिए कार्य कर  रही है, महंगाई लगातार बढ़ रही है, साल में 2 करोड़ लोगों को रोजगार देने का वायदा करने वाली सरकार लोगों को निकालने का कार्य कर  रही है |  सरकार की खिचाई करते हुए उन्होंने कहा कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू करने का वायदा करने वाली सरकार सरसों व गेहूं की ख़रीददारी भी नहीं रही है, किसान को मजबूर होकर सरसों को मार्केट रेट से 500 से 600 रूपये कम रेट पर बेचने पर मजबूर होने पड़ रहा है | कमेरा व दलित वर्ग भी रोजगार नहीं मिलने के कारण निराश व हताश है |  भाजपा सरकार अपना आधार खो चुकी है| छोटा व्यापारी इस राज में सबसे ज्यादा परेशान है | इस मौके पर जिला प्रचार सचिव प्रेम सिंह धनखड़, राजेन्द्र ढाका, अमर दलाल, अजय श्योराण, संजय चौधरी, दीपक, विनोद डागर, शमशेर शर्मा, संजू, भूपेन्द्र, बलदेव सिंह इत्यादि मौजूद थे | 

loading...
SHARE THIS

0 comments: