Wednesday, May 16, 2018

तीन पत्रकारों के खिलाफ झूठे मुकदमे और उत्पीडऩ को लेकर धरना, सौंपा ज्ञापन


False prosecution and molestation against three journalists, memorandum handed over

फरीदाबाद(abtaknews.com) 16मई,2018 ;तीन पत्रकारों के खिलाफ दर्ज किए गए झूठे मुकदमे और उसके बाद पत्रकार उत्पीडऩ से गुस्साये सभी पत्रकारों ने एकजुट होकर बीके चौक पर धरना देकर राज्यपाल के नाम जिला उपायुक्त को ज्ञापन सोंपा। पत्रकारों ने धरना प्रदर्शन के दौरान झूठे मुकदमे दर्ज करवाने वाले नेताओं का बहिष्कार किया और वहीं उन तीन पत्रकारों को भी पत्रकार समाज के सामने सही ठहराया। इस प्रदर्शन के दौरान हरियाणा पत्रकार संघ के अध्यक्ष केवी पंडित सहित अन्य जिलों के कई पत्रकार मौजूद रहे।

पिछले दिनों एक नेता और नेत्री के संबंधों की वायरल सूचना पर खबर लिखने को लेकर फरीदाबाद के तीन पत्रकारों पर राजनीति दबाब के चलते झूठा मुकदमा दर्ज करवाया गया था जिसके बाद उन्हें पुलिस रिमांड पर लेकर जेल भी भेज दिया गया था जिसपर उन्हें जमानत मिली,, यह सब तब हुआ जब खद सीएम खट्टर ने फरीदाबाद में रोड शो के दौरान पत्रकारों को आश्वासन दिया था कि किसी भी पत्रकार की गिरफ्तारी नहीं होगी।  इस पूरे प्रकरण से गुस्साये पत्रकारों ने बीके चौक पर एकजुट होकर धरना प्रदर्शन किया और उसके बाद राज्यपाल के नाम जिलाउपायुक्त को ज्ञापन सोंपा। इस प्रदर्शन के दौरान फरीदाबाद के ही नहीं पलवल, गुरूग्राम सहित प्रदेश के तमाम जिलों पत्रकार मौजूद रहे। 
False prosecution and molestation against three journalists, memorandum handed over

हरियाणा पत्रकार संघ के अध्यक्ष केवी पंडित ने बताया कि पत्रकारों को गिरफ्तार करना और उनके साथ पेशेवर मुजरिम जैसा वर्ताव करना निंदनीय कार्य था जिसकी वह भर्तसना  करते हैं, इस पूरे मामले  को लेकर एक बार वह सीएम से मुलाकात करेंगे। वहीं वरिष्ठ पत्रकारों की मानना है कि वह दशकों से पत्रकारिता कर रहे हैं इस दौरान मुकदमे तो कई दर्ज हुए मगर कभी गिरफ्तारी नहीं हुई ये पहला मामला है जिसमें गिरफ्तारी हुई है। 

क्या है पूरा मामला -- विगत 16 अप्रैल को फरीदाबाद के वरिष्ठ पत्रकार नवीन धमीजा, संजय कपूर एवं नवीन गुप्ता के खिलाफ एक खबर छापने पर पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज किया गया था। इसके विरोध में ही बुधवार को शहर के पत्रकारों ने विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया था।

समस्त पत्रकार फरीदाबाद द्वारा आयोजित प्रदर्शन में सिटी प्रेस क्लब के अध्यक्ष बिजेंद्र बंसल ने आहवान किया कि पत्रकारों के खिलाफ अपराधिक षडयंत्र रचने वाले विधायक व भाजपा नेताओं का पूर्ण बहिष्कार किया जाए और कोई भी पत्रकार उनकी खबर ना छापे। मजदूर मोर्चा केे संपादक सतीश कुमार सहित सभी पत्रकारों ने श्री बंसल के इस आहवान का पुरजोर समर्थन किया। पलवल पत्रकार मंच के चेयरमैन देशपाल सौरोत ने पत्रकारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने वाले नेता व अधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की। धरने को फरीदाबाद प्रेस क्लब के सरंक्षक सुभाष शर्मा,  फोटो जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष सुभाष शर्मा, बल्लभगढ़ प्रेस क्लब के अध्यक्ष विनोद मित्तल, जेबी शर्मा, बिजेंद्र शर्मा, रूपेश बंसल, अनिल अरोड़ा, गुलाब सिंह, अशोक जैन, देवेंद्र कौशिक, राजेश दास, दयाराम वशिष्ठ, नरेंद्र शर्मा, पंकज सिंह, कुलजिंद्र रजनीकर, खेमचंद गर्ग, एतेशाम,जयशंकर सुमन,राजेश नागर, दुष्यंत त्यागी, शिव कुमार, हरेंद्र नागर,   दीपक मुखी,  संदीप पाराशर, ओमप्रकाश पांचाल, राजेश पुंजानी, दीपक पांडे,केशव भारद्वाज, सुधीर बैसला, यशपाल सिंह, राजेंद्र दहिया, धर्मेंद्र चौधरी, सुधीर वर्मा, सरूप सिंह, मनोज तौमर, हरीप्रसाद पंडित, पुष्पेंद्र सिंह राजपूत,ओमदेव शर्मा,  जोगिंद्र रावत, विकास कालिया, बिजेंद्र फौजदार, हरिंद्र मंडल, अमित भाटिया,  गजेंद्र राजपूत, तिलकराज शर्मा, मनोज भारद्वाज, अनिल बेताब, सूरजभान, सुशील सिंह, धमेंद्र प्रताप सिंह, राजा पटेल, विनोद वैष्णव, विकास भारद्वाज, रामरतन नरवत, रघुवीर सिंह,महेश गुप्ता, दीपक शर्मा सहित महिला पत्रकारों सरोज अग्रवाल, शिखा राघव, यशवी गोयल,राधिका बहल, पूजा भारद्वाज व जसप्रीत कौर ने भी बढ़ चढ़कर भाग लिया।


loading...
SHARE THIS

0 comments: