Monday, May 14, 2018

सड़क निर्माण में घटिया क्वालिटी का सीमेंट, भरे गए नमूने, ठेकेदार की रूकेगी पेमेंट

Cement of poor quality in the construction of the building, completed samples, stoppage of contractor payment

बल्लभगढ़(abtaknews.com)सड़कों के निर्माण कार्य में घटिया क्वालिटी का सीमेंट लगाने के मामले में बल्लभगढ़ के एसडीएम राजेश कुमार ने जांच कमेटी बिठा दी है। SDM ने उक्त ठेकेदार की पेमेंट रोकने के आदेश भी जारी कर दिए। एसडीएम के आदेश पर नायब तहसीलदार वीरेंद्र सिंह के नेतृत्व में एक टीम तिगांव रोड पर पहुंची और यहां सीमेंट का सैंपल भरा गया। इतना ही नहीं नायब तहसीलदार बल्लभगढ़ के गांधी भवन पहुंचे जहां हजारों काटे चेतक सीमेंट के रखे हुए थे। बता दें कि चेतक सीमेंट नगर निगम में बैन है। SDM ने ठेकेदार को साफ तौर पर चेतावनी दी है कि या तो निर्माण कार्य में गुणवत्ता का भी ध्यान रखें या उनके खिलाफ पेमेंट रोकने के अलावा अन्य कार्यवाही भी की जाएगी।

बल्लभगढ़ के तिगांव रोड पर जहां नायब तहसीलदार वीरेंद्र सिंह ने  निर्माण कार्य में इस्तेमाल किए जा रही सीमेंट की जांच की। नायब तहसीलदार ने बताया कि 4 दिन पहले SDM ने यहां काम कर रहे कर्मचारियों को निर्माण कार्य में चेतक सीमेंट का इस्तेमाल ना करने के आदेश दिए थे। बावजूद इसके ठेकेदार इस सीमेंट का लगातार इस्तेमाल किए जा रहा है। SDM ने यह बात नगर निगम कमिश्नर मोहम्मद शाहिद के संज्ञान में लाई और मोहम्मद शाइन के आदेश पर नायब तहसीलदार के नेतृत्व में एक टीम मौके पर जांच करने पहुंची। नायब तहसीलदार की माने तो चेतक सीमेंट के हजारों कट्टो का गोदाम बल्लभगढ़ के गांधी भवन में बनाया हुआ है जहां से सड़कों के निर्माण के लिए सीमेंट जाता है।

मौके पर काम कर रहे कर्मचारी का कहना है कि उन्हें नहीं पता कि चेतक सीमेंट का इस्तेमाल निर्माण कार्य में किया जाना है या नहीं। ठेकेदार ने जो सीमेंट उन्हें दिया है वह उसे लगा रहे हैं बल्लभगढ़ के SDM राजेश कुमार की माने तो नगर निगम कमिश्नर मोहम्मद शाहिद सड़कों की गुणवत्ता के मामले में बेहद गंभीर है। 4 दिन पहले उन्होंने कर्मचारियों को चेतक सीमेंट का इस्तेमाल ना करने के आदेश दिए थे। लेकिन ठेकेदार ने उनके आदेश की परवाह ना करते हुए चेतक सीमेंट लगाया। SDM की माने तो उन्होंने नगर निगम कमिश्नर मोहम्मद शाइन को ठेकेदार की पेमेंट रोकने के लिए पत्र लिख दिया है। SDM की माने तो किसी भी हालत में गुणवत्ता के मामले में किसी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा।

loading...
SHARE THIS

0 comments: