Monday, May 14, 2018

पुलिस द्वारा नाजायज मारपीट व फर्जी इन्काउंटर की धमकी के खिलाफ पुलिस आयुक्त को ज्ञापन

Memorandum to the police commissioner against the threat of illegal injuries and fake encounter by police

फरीदाबाद 14 मई(abtaknews.com) पुलिस द्वारा नाजायज तरीके से मारपीट व इन्काउंटर धमकी दिये जाने के विरोध में आज तिगांव विधानसभा क्षेत्र के वरिष्ठ इनेलो नेता कुंवर उमेश भाटी, पदमश्री अवार्ड से सम्मानित डा. ब्रहमदत्त शर्मा के नेतृत्व में सैकडो लोग पुलिस अधीक्षक अमिताभ ढिल्लो से मिलेें एवं उन्हें ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में प्रार्थी नरवीर भाटी पुत्र श्री मनोहर लाल भाटी ने बताया कि 12 मई को रात्रि 10.30 बजे रात के करीब मैं तथा मेरे चाचा का लडका दीपक सुनपेड से अपने मामा की लडकी की शादी में गया था और जब मैं उधर से आ रहा था तो रास्ते में जमुनापुल फ्लाई ओवर के पास गांव फज्जूपुर पर कुलदीप दहिया व उनके साथ 10-12 पुलिस कर्मचारी वहां पर खडे मिले और मेरी गाडी रोक दी और हमारी गाडी की तलाशी ली और उन्होंने मेरी गाडी के दस्तावेल मांगे हमने गाडी के सभी दस्तावेज दिखा दिये यानि हमारे पास कोई ओफेन्श नहीं मिला तो उपरोक्त कुलदीप दहिया ने मुझसे 5000/- रूपये की मांग की तो मेरे चाचा के लडके ने कहा कि किस बात के पैसे तो कुलदीप दहिया ने मेरे चाचा के लडके पर हाथ छोड दिया और जब मैने कहा कि साहब हमारे दस्तावेज पूरे है और हमारी गाडी की भी आपने तलाशी कर ली है तो हम पैसे किस बात के दे तो उपरोक्त सभी पुलिस कर्मियों ने मेरे साथ व मेरे चाचा के लडके के साथ लात घूसो से मारपीट की और मुझे जबदस्ती थाना छायंसा अपनी गाडी में बठा कर ले गये और वहां जाकर भगत सिंह ए.एस.आई मिला और आते ही मेरे साथ मारपीट की और मेरे साथ गाली गालौच की और मुझे जान से मारने की धमकी दी और कहा कि इसे यहां से भगाओ मैं इसका इन्काउंटर करके गोली मार दूंगा और मुझे दोषी की तरह मेरे कपडे उतरवाकर नंगा  बैठा कर रखा।

उसने बताया कि 13 मई को मेरा भाई नरेन्द्र भाटी थाना छायासा में आ गया और उपरोक्त भगत ङ्क्षसह एएसआई ने आते ही मेरे भाई से गाली गालोच व मुझे जान से मारने की धमकी देते हुए मुझसे व मेरे भाई स कहा कि एक दरखास्त लिखो कि मेरे साथ पुलिस के किसी भी कर्मचारी ने कोई मारपीट व गाली गालौच नही की। जिस पर हम दोनो भाईयों ने डर के कारण एक दरखास्त लिख कर दे दी और उसके बाद मेरा भाई मुझे अपने साथ लेकर घर आरे लगा तो उपरोक्त सभी पुलिस कर्मचारी व कुलदीप एसएचओ ने कहा कि इस बावत किसी प्रकार की कोई कानूनी कार्यवाही की तो तुम्हे फर्जी इन्काउटर करके मार देंगे और तुम हमारा कुछ नहीं बिगाड सकते हो।

इस मौके पर पुलिस कमिशनर से इनेलो नेता कुंवर उमेश भाटी व डा. बह्रमदत्त ने कहा कि एक तरफ तो पुलिस जनता की रक्षक बनने का दावा करती है दूसरी तरफ इस तरह का व्यवहार करके पुलिस जनता से अपना विश्वास खोने का प्रयास कर रही है औरर अच्छे उच्च अधिकारियों की छवि को धूमिल करने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि ऐसे पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही होनी चाहिए। उमेश भाटी ने कहा कि पुलिस अधीक्षक इस मामले में उच्च स्तर पर जांच करवाये और दोषियों को सजा दिलाने में अपनी अहम भूमिका निभाये। उमेश भाटी ने कहा कि कुछ पुलिस कर्मी अपने पदको के लिए इन्काउंटर का सहारा लेकर गरीब व बेकसूर लोगों को निशाना बना रहे है जिसकी भी जांच होनी चाहिए।

पुलिस कमिशनर ने आये हुए लोगो की बात को सुनकर इस पूरे मामले की जांच के आदेश एसीपी तिगांव को सौंपी जिनके नेतृत्व मे टीम का गठन करके इस मामले से पर्दा उठाया जायेगा। पुलिस कमिशनर ने कहा कि आपको पूर्ण न्याय दिलाया जायेगा इसका मै वादा करता हूं। ज्ञापन देने वालो में दीपक भाटी, जोगिन्द्र ङ्क्षसह, राकेश भाटी, मनोहर भाटी, राजकुमार, भाल सिंह,  दीपक सिंह, पवन, हरेन्द्र, नवीन, दीपक कुमार, विक्रम, दीपू चौहान, के पी सिंह, गगन सिसोदिया, विक्रम सिंह, यतेन्द्र भाटी, रणधीर सिंह, सुधीर भाटी, नरेन्द्र भाटी, कुलवंत सिंह, सतीश आदि उपस्थित रहे।



loading...
SHARE THIS

0 comments: