Wednesday, May 16, 2018

पत्रकार उत्पीडऩ के विरोध में फरीदाबाद के पत्रकारों का धरना, मुकदमा रद्द करने को राज्यपाल के नाम डीसी को सौंपा ज्ञापन

Faridabad journalists held in protest against journalist harassment, the memorandum handed over to the Governor's name DC to cancel the case

फरीदाबाद(abtaknews.com) 16 मई,2018 ; तीन पत्रकारों के खिलाफ पुलिस द्वारा दर्ज मुकदमे के विरोध में बुधवार को फरीदाबाद के सैंकड़ों पत्रकारों ने बी.के.चौक पर धरना दिया। पत्रकारों ने रोष प्रदर्शन करते हुए  राज्यपाल कप्तान सिंह सौंलकी के नाम ज्ञापन दिया। पत्रकारों ने राज्य सरकार से मांग की कि पत्रकारों के खिलाफ आने वाली शिकायतों पर डीएसपी रैंक से ऊपर के अधिकारी से जांच करवाए बिना कोई भी मुकदमा दर्ज नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि  मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर को यथाशीघ्र इस संबंध में राज्य पुलिस को दिशा निर्देश जारी करने चाहिएं। धरने की अध्यक्षता करते हुए हरियाणा पत्रकार संघ के अध्यक्ष श्री के.बी. पंडित ने कहा कि पत्रकारों से संबंधित मांगों को लेकर राज्य पत्रकारों का एक बड़ा प्रतिनिधि मंडल शीघ्र ही उनसे चंडीगढ़ में मुलाकात करेगा। इस संबंध में मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन को जानकारी दे दी गई है।
Faridabad journalists held in protest against journalist harassment, the memorandum handed over to the Governor's name DC to cancel the case

श्री पंडित ने फरीदाबाद के तीन पत्रकारों पर दर्ज मुकदमे को तुरंत वापिस लेने की मांग करते हुए कहा कि पत्रकारों पर यह मामला राजनैतिक रंजिश और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की शह पर  दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि इस बात की भी जांच होनी चाहिए कि पत्रकारों के खिलाफ दर्ज जमानती धाराएं लगाई गई थीं, पंरतु बाद में किसकी शह पर गैर जमानती धाराएं क्यों जोड़ी गई। इसका उद्देश्य पत्रकारों को जेल में बंद रखना था। उन्होंने चेतावनी दी कि इस मामले को यदि वापिस नहीं लिया गया तो चंडीगढ में भी पत्रकार धरना देंगे।

इस अवसर पर श्री पंडित ने कहा कि मुख्यमंत्री के आश्वासन के बावजूद पत्रकारों को गिरफ्तार क्यों किया गया और गैरजमानती धाराएं लगाकर उनका पुलिस रिमांड मांगा गया, इसकी निष्पक्ष व उच्च स्तरीय जांच की जानी चाहिए।  धरने के बाद सभी पत्रकार जिला सचिवालय गए और एसडीएम के  माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन पर सैंकड़ों पत्रकारों ने हस्ताक्षर किए। ज्ञापन में हस्ताक्षर करने वालों में प्रमुख तौर पर सिटी प्रेस क्लब फरीदाबाद के अध्यक्ष बिजेंद्र बंसल, वरिष्ठ पत्रकार अमरनाथ बागी, पंजाब केसरी के ब्यूरो चीफ सूरजमल, दैनिक भास्कर के ब्यूरो चीफ धीरेंद्र राजपूत, दैनिक जागरण के ब्यूरो चीफ सुशील भाटिया, एनबीटी के ब्यूरो प्रमुख पवन जाखड़, अमर उजाला के ब्यूरो चीफ संजय सिसोदिया, फरीदाबाद प्रेस क्लब के प्रधान अनिल जैन, दैनिक ट्रिब्यून के ब्यूरो चीफ राजेश शर्मा, , पंजाब केसरी दिल्ली के प्रभारी राकेश कुमार, एनबीटी गुरूग्राम के ब्यूरो चीफ अजयदीप लाठर, राष्ट्रीय सहारा के ब्यूरो प्रमुख महेंद्र चौधरी, पंजाब केसरी के प्रभारी महावीर गोयल, एनडीटीवी के संवाददाता अजीत सिन्हा, एबीपी न्यूज के संवाददाता दीपक गौतम, पायनियर के ब्यूरो चीफ  राकेश चौरसिया,पत्रकार के.एल.गेरा, आज समाज के प्रभारी शकुन रघुवंशी,  सिटी प्रेस क्लब के सरंक्षक उत्तमराज, इंडिया न्यूज हरियाणा के ब्यूरो चीफ सुधीर शर्मा, फरीदाबाद प्रेस क्लब के पूर्व अध्यक्ष प्रमोद गोयल, सहारा समय के प्रभारी प्रितपाल माटा , गुरूग्राम फोटो जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष संदीप गठवाल, जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूप चौधरी एवं जर्नलिस्ट एसोसिएशन हरियाणा के अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी शामिल थे। 

क्या है पूरा मामला ---  16 अप्रैल को फरीदाबाद के वरिष्ठ पत्रकार नवीन धमीजा, संजय कपूर एवं नवीन गुप्ता के खिलाफ एक खबर छापने पर पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज किया गया था। इसके विरोध में ही बुधवार को शहर के पत्रकारों ने विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया था।पत्रकार फरीदाबाद द्वारा आयोजित प्रदर्शन में सिटी प्रेस क्लब के अध्यक्ष बिजेंद्र बंसल ने आहवान किया कि पत्रकारों के खिलाफ अपराधिक षडयंत्र रचने वाले विधायक व भाजपा नेताओं का पूर्ण बहिष्कार किया जाए और कोई भी पत्रकार उनकी खबर ना छापे। मजदूर मोर्चा केे संपादक सतीश कुमार सहित सभी पत्रकारों ने श्री बंसल के इस आहवान का पुरजोर समर्थन किया। पलवल पत्रकार मंच के चेयरमैन देशपाल सौरोत ने पत्रकारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने वाले नेता व अधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की। धरने को फरीदाबाद प्रेस क्लब के सरंक्षक सुभाष शर्मा,  फोटो जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष सुभाष शर्मा, बल्लभगढ़ प्रेस क्लब के अध्यक्ष विनोद मित्तल, जेबी शर्मा, बिजेंद्र शर्मा, रूपेश बंसल, अनिल अरोड़ा, गुलाब सिंह, अशोक जैन, देवेंद्र कौशिक, राजेश दास, दयाराम वशिष्ठ, नरेंद्र शर्मा, पंकज सिंह, कुलजिंद्र रजनीकर, खेमचंद गर्ग, एतेशाम,जयशंकर सुमन,राजेश नागर, दुष्यंत त्यागी, शिव कुमार, हरेंद्र नागर,   दीपक मुखी,  संदीप पाराशर, ओमप्रकाश पांचाल, राजेश पुंजानी, दीपक पांडे,केशव भारद्वाज, सुधीर बैसला, यशपाल सिंह, राजेंद्र दहिया, धर्मेंद्र चौधरी, सुधीर वर्मा, सरूप सिंह, मनोज तौमर, हरीप्रसाद पंडित, पुष्पेंद्र सिंह राजपूत,ओमदेव शर्मा,  जोगिंद्र रावत, विकास कालिया, बिजेंद्र फौजदार, हरिंद्र मंडल, अमित भाटिया,  गजेंद्र राजपूत, तिलकराज शर्मा, मनोज भारद्वाज, अनिल बेताब, सूरजभान, सुशील सिंह, धमेंद्र प्रताप सिंह, राजा पटेल, विनोद वैष्णव, विकास भारद्वाज, रामरतन नरवत, रघुवीर सिंह,महेश गुप्ता, दीपक शर्मा सहित महिला पत्रकारों सरोज अग्रवाल, शिखा राघव, यशवी गोयल,राधिका बहल, पूजा भारद्वाज व जसप्रीत कौर ने भी बढ़ चढ़कर भाग लिया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: