Monday, May 14, 2018

विजिलेंस एसपी विनोद कौशिक बोले फरीदाबाद और गुरूग्राम में हैं 70 फीसदी भ्रष्ट अधिकारी


Vigilance SP Vinod Kaushik says in Faridabad and Gurgaam, 70 percent corrupt officials

फरीदाबाद(abtaknews.com दुष्यंत त्यागी) 14 मई,2018; पूरे प्रदेश में सिर्फ फरीदाबाद और करनाल के लिये विजिलेंस विभाग में एसपी लगाये हैं, आइपीएस विनोद कौशिक को फरीदाबाद मंडल की राज्य सतर्कता ब्यूरो (विजिलेंस) का एसपी नियुक्त किया गया है। जिन्होंने अपना पदभार हाल ही संभाला है, और बडा बयान देते हुए कहा है कि हरियाणा के फरीदाबाद और गुरूग्राम जिलों में 60 से लेकर 70 प्रतिशत तक भ्रष्ट अधिकारी हैं फरीदाबाद और पलवल जिले के भ्रष्ट अधिकारियों पर नकेल कसने के लिये उन्होंने काम शुरू कर दिया है और चेतावनी भी दी है कि ऐसे भ्रष्ट अधिकारी व कर्मचारी या तो ईमानदारी की राह अपनाते हुए सरकार की भ्रष्ट्राचार मुक्त मुहिम में अपना योगदान दें नहीं तो विजिलेंस उन्हें बख्सेगी नहीं।

फरीदाबाद मंडल बनने के बाद यहां के लिए अलग विजिलेंस टीम का गठन किया गया है, जिसके तहत आइपीएस विनोद कौशिक को फरीदाबाद मंडल की राज्य सतर्कता ब्यूरो (विजिलेंस) का एसपी नियुक्त किया गया है। जिन्होंने हाल ही में अपना पदभार संभाल लिया। फरीदाबाद जिला अब से पहले गुरुग्राम मंडल के अधीन था और विजिलेंस के एसपी वहीं बैठते थे। फरीदाबाद में डीएसपी स्तर के दो अधिकारियों की नियुक्ति की गई थी। 

फरीदाबाद राज्य सतर्कता ब्यूरो (विजिलेंस) के नये एसपी विनोद कौशिक ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उनकी प्राथमिकता सरकार की भ्रष्ट्राचार मुक्त शासन को सार्थक बनाना है, जिसके लिये उन्हें फरीदाबाद में तैनात किया गया है सरकार ने पूरे प्रदेश के फरीदाबाद और करनाल दो जिलों में ही अभी विजिलेंस के एसपी नियुक्त किये हैं जबकि जल्द ही सभी जिलों में एसपी न्युक्त किये जायेंगे, वहीं उन्होंने बडा बयान देते हुए कहा कि हरियाणा के फरीदाबाद और गुरूग्राम जिलों में सबसे ज्यादा 60 से 70 प्रतिशत तक भ्रष्ट अधिकारी है जिनपर नकेल कसना जरूरी है। इसलिये उन्होंने फरीदाबाद और पलवल जिले के भ्रष्ट अधिकारियों व कर्मचारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि है या तो सभी सरकारी अफसर ईमानदारी से अपना काम करना शुरू कर दें अन्यथा विजिलेंस उन्हें छोडेगी नहीं। इतना ही नहीं एसपी कौशिक ने कहा है कि शिकायतकर्ता ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों कि शिकायत बेझिझक विजिलेंस में कर सकते हैं उनकी शिकायत पर कार्यवाही की जायेंगी और सिर्फ दो बार ही उसे बयान देेने के लिये आना होगा। वहीं विनोद कौशिक ने बताया कि सरकार से स्टाफ की मांग की गई है, ताकि विजिलेंस का कार्य सुचारू रूप से चल सके। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: