Sunday, May 27, 2018

फरीदाबाद में प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की 54वीं पुण्यतिथि पर किया याद

Remembering Pandit Jawaharlal Nehru on 54th death anniversary in Faridabad
फरीदाबाद, 27 मई(abtaknews.com) भारत के प्रथम प्रधानमंत्री भारत रत्न पंडित जवाहर लाल नेहरू की आज 54वीं पुण्यतिथि पर फरीदाबाद के कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने एनआईटी स्थित नीलम चौक पर पं. जवाहर लाल नेहरू की प्रतिमा पर फूलमाला चढ़ाकर मनाई। इस अवसर पर फरीदाबाद के पूर्व विधायक आनन्द कौशिक ने कहा कि पंडित जवाहर लाल नेहरू आधुनिक भारत के निर्माता थे। पं. जवाहर लाल नेहरू एक महान स्वतंत्रता सेनानी, कुशल राजनितिज्ञ, उच्चकोटि के वकील, लेखक, दुरदृष्टा थे। देश को स्वतंत्र कराने में नेहरू जी ने विशेष भूमिका निभाई। भारत की आजादी की लडाई मे उन्होने महात्मा गांधी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर संघर्ष किया। स्वतंत्रता सग्रंाम के दौरान नेहरू जी पर अंग्रेजो ने तरह तरह के मुकदमें लगाकर उन्हे कई बार जेल भेजा गया और तरह तरह की यातनाए दी गई। लेकिन उन्होने देश की स्वतंत्रता की खातिर कभी हार नही मानी। श्री कौशिक ने कहा कि कृतज्ञ राष्ट्र को पं. जवाहर लाल नेहरू को सदैव याद रखना चाहिए।
इस अवसर पर श्री कौशिक ने कहा कि अग्रेंंजो से आजादी के बाद भारत देश की आर्थिक दशा बिलकुल खराब हो चुकी थी, देश मे बंटवारे के कारण भाईचारा भी खत्म हो चुका था। ऐसे मे प. जवाहर लाल नेहरू ने भारत देश को आर्थिक रूप सुदृढ़ बनाने मे जो योगदान दिया है वह भुलाया नही जा सकता है। पूरे देश मे बिखरी हुई सभी रियासतों को इकट्ठा करने के लिए उन्होंने हर संभव कदम उठाया और एक अखंड भारत की नींव रखी। नेहरू जी ने देश मे भाईचारे को सर्वोपरि रखा और हिन्दू मुस्लिम एकता को बनाये रखने मे अहम योगदान निभाया। 
इस अवसर पर हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव बलजीत कौशिक ने कहा कि पं. जवाहर लाल नेहरू को बच्चों से विशेष लगाव था। इसलिए बच्चें उन्हे चाचा नेहरू कहकर पुकारते थे। उनके जन्मदिन को देश मे बालदिवस के रूप मनाया जाता हैं। उन्होने कहा कि स्वतंत्र भारत के विकास मे सबसे अधिक योगदान पं. जवाहर लाल नेहरू जी का रहा है। उन्होने देश में किसानो, मजदूर, गरीबो सभी को विकास का समान अवसर दिया। श्री कौशिक ने बताया कि प. जवाहर लाल नेहरू ने फरीदाबाद को बसाया था तथा पाकिस्तान से आये लोगो को रोजगार के अवसर प्रदान करके उन्हे दोबारा से मुख्यधारा में जोडने का काम किया था।
इस अवसर पर के.सी. शर्मा प्रधान आरटीआई सैल, देवेन्द्र दीक्षित उपप्रधान फरीदाबाद ब्राहम्ण सभा, डा. सौरभ शर्मा जिलाध्यक्ष प्रोफेशनल कांग्रेस, सीमा रावत जिलाध्यक्ष प्रधान महिला कांग्रेस, लाडो देवी प्रधान,  रंधावा फागना, टीकम सिंह गौतम, महेश कुमार, महेन्द्र यादव, विक्रम पोसवाल, लक्ष्मी नारायण मितल, राजेन्द्र जिंदल, तुलसी प्रधान, महेन्द्र बघेल, मोहम्मद इस्लामुद्दीन प्रधान, हरी सैनी, सही राम रावत, पम्मी, जमना देवी, हुकमी बाई, मास्टर बलवान पांचाल, श्याम सिंह सरपंच, कमलेश, रवि कुमार आदि कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: