Tuesday, April 3, 2018

दहेज़ रूपी दानवों के भेट चढ़ी एक और विवाहिता, दो साल पहले हुई थी पूजा की शादी

Another marriage, a gift of dowry, came two years ago, the wedding of Pooja

फरीदाबाद(abtaknews.com)03 अप्रैल,2018; दहेज रूपी दानवो की भेट चढ़ी एक और विवाहिता। मामाला फरीदाबाद की भारत कालोनी का है जहां एक विवाहिता ने ससुरालियों द्वारा दहेज़ के लिए बार-बार परेशान करने से तंग आकर कर मौत को गले लगा लिया। वहीँ लड़की पक्ष ने ससुरालियों पर दहेज़ के लिए विवाहिता की हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने मृतका के परिजनों की शिकायत पर दहेज के लिए परेशान करने और अन्य धाराओं के तहत  पर पति,सास,ससुर सहित अन्य कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज मामले की जाँच शुरू कर दी है। वहीं मृतका का पोस्टमार्टम जिला अस्पताल में करा कर शव उसके परिवार को सौंप दिया गया।

जिला अस्पताल में पूजा के शव मिलने के इंतजार में खडे दिखाई दे रहे ये लोग पूजा के परिजन है।बल्लभगढ़ में भाटिया कॉलोनी निवासी पूजा के पिता हाकिम सिंह ने पुलिस को बताया कि उनकी बेटी  पूजा की शादी 4 फरवरी 2016 को भारत कॉलोनी निवासी दीपक सोलंकी से की थी।उन्होंने शादी में कार से लेकर दहेज में सब कुछ दिया था लेकिन बेटी के ससुरालियों की दहेज़ की भूख खत्म नहीं हुई । आरोपी  शादी के बाद से ही उसके ससुराल वाले पूजा से बार - बार  और अधिक दहेज की मांग कर रहे थे। उनके मुताबिक उन्हें कल  शाम 7 बजे बेटी  के ससुराल से फोन आया और बताया कि पूजा ने फांसी लगा ली है। सर्वोदय में उसकी मौत हो गई। पिता  का आरोप है कि उनकी बेटी  को उसके पति दीपक, सास पुष्पा, ससुर रमेश, ननदें और ननदेऊ प्रताड़ित करते थे। उन्होंने अंदेशा जताया है कि या तो उसने इनकी प्रताड़ना से दुखी होकर आत्महत्या की है, या इन लोगों ने उसे मार दिया है। उन्हें अपनी बेटी को न्याय और हत्यारो को सजा चाहिए। पुलिस जाँच अधिकारी सिलक राम के मुताबिक मृतिका के पिता के बयान पर पति,सास,ससुर सहित कई अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है




loading...
SHARE THIS

0 comments: