Monday, April 16, 2018

फरीदाबाद के संजीव राजपूत ने जीता रायफल शूटिंग में गोल्ड मेडल, परिजनों को बधाई

Sanjeev Rajput of Faridabad congratulated the gold medal, family members in shooting rifle shoots

फरीदाबाद(abtaknews.com) के खाते में आया कॉमनवेल्थ गेम का दूसरा गोल्ड मेडल। जी हां फरीदाबाद की ग्रीन फील्ड कॉलोनी के रहने वाले संजीव राजपूत ने ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम में रायफल शूटिंग प्रतियोगिता के दौरान गोल्ड मेडल जीतकर फरीदाबाद हरियाणा का ही नहीं पूरे देश का नाम रोशन किया है। संजीव राजपूत ने 50 मीटर रायफल शूटिंग में गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया है। फरीदाबाद पहुंचने पर संजीव की इस उपलब्धि से फरीदाबाद में खुशी का माहौल देखा जा रहा है तो वहीं घर पहुंचे संजीव राजपूत को परिजनों ने मिठाई खिलाकर दी बधाई दी है। इससे पहले संजीव कॉमनवेल्थ गेम में ब्रॉज और सिल्वर मेडल भी हासिल कर चुका है।

आस्ट्रेलिया के ब्रिजबेन शहर में आयोजित हुई कॉमनवेल्थ गेम में फरीदाबाद की ग्रीन फील्ड कालोनी के रहने वाले संजीव राजपूत ने 50 मीटर रायफल शूटिंग प्रतियोगिता में हिस्सा लिया, जहां वह 27 मार्च को पहुंचे और प्रतियोगिता में अपनी हिस्सेदारी मजबूत की।संजीव राजपूत ने बताया कि उन्होंने इस बार रायफल शूटिंग प्रतियोगिता में 120 गोलियां चलाई जो कि अगल अलग पोजिशन में चलानी होती हैं, जिसपर उन्होंने 1200 टोटल नम्बरों से 1180 नम्बर प्राप्त हुए है जिसके लिये उन्हें गोल्ड मेडल से नवाजा गया। इससे पहले भी वह 2006 में ब्रॉज मेडल और 2014 में सिल्वर मेडल कॉमनवेल्थ गेम से प्राप्त कर चुके हैं, फिलहाल वह साउथ कोरिया जाने की तैयारी कर रहे हैं जहां एक विश्व स्तरीय प्रतियोगिता आयोजित होनी हैं उसके बाद ओलम्पिक गेम के लिये तैयारी करेंगे। गोल्ड मेडल जीतने की खुशी  जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि देश के लिये गोल्ड जीतने से बडा कोई गौरव नहीं हो सकता है वह आज महसूस कर रहे हैं। वहीं उन्होंने हरियाणा सरकार का धन्यवाद करते हुए कहा कि सरकार खिलाडियों की मदद कर रही है।

वहीं इस मौके पर संजीव के पिता किशनलाल राजपूत और माता उषा राजपूत ने बताया कि उन्हें आज बहुत खुशी है कि उनके बेटे ने उनका ही नहीं पूरे देश का नाम रोशन किया है वह आज अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं क्योंकि उन्होंने अपने बेटे का साथ दिया है और आगे भी देते रहेंगे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: