Tuesday, April 24, 2018

गिरता भू-जल भविष्य के लिए अभिशाप, बुग्गी भैसे पर पानी बचाने के लिए किया जागरूक

Falling ground water for curse, curious to save water at Buggy Bhasi

फरीदाबाद (abtaknews.com)गिरता भू-जल को लेकर भूमि जल बचाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष शिवदतत वशिष्ठ एडवोकेट ने जल के दुरूउपयोग को लेकर गांव बडौली में अभियान चलाया, बुग्गी भैसा पर सवार होकर समिति के कार्याकर्ताओ व गांव की महीलाओ ने हाथो में पटीट्काए लेकर गांव में फेरी लगा कर गांव के लोगो को पानी को बचाने के लिए जागरूक किया। जिले में हर साल करीब 10 फुट नीचे जल स्तर खिसक रहा है शहर के साथ साथ गांवो मेंं भी भू-जल का स्तर साडे चार सौ फीट से भी नीचे चला गया है, दस साल पहले यमूना किनारे बसे सैकडो गांवो में जहां बीस फीट पर पानी आ जाता था अब उन गांवो में भी एस सौ बीस फीट गहराई पर जल स्तर है। फरीदाबाद उद्योगिक नगरी है यहां आबादी तेजी से बढ रही है। जिले की आबादी 22 लाख को पार कर चुकी है। आबादी बढता देख यहा पर जल माफिया सर्किय हो गए है। भूमि जल बचाओ संघर्ष समिति ने गांव वासियो से अपील की है कि बरसाती पानी को जमीन के नीचे पहुचाने का काम करे। हर गांववासी को मकान बनाने से पहले रेन वाटर हार्वेसटिंग सिस्टम लगवाना चाहिए। गांव की सरपंच सतोष देवी व पंच अन्नु वशिष्ठ एडवोकेट ने कहा कम्पनी, वर्कशापो व अन्य संस्थानो से प्रदुशित पानी को जमीन के नीचे ना डाला जाए आमजन पानी की बर्बादी रोके, बारिश व बाढ़ के दिन में यमूना और नहरो में आने वाले पानी को झीलो में इक्टठा करने का इन्तजाम किया जाए और हर ग्रामवासी जरूरत के हिसाब से पानी का इस्तेमाल करे। केन्द्रीय जल संस्साधन बोर्ड हरियाणा के 11 जिलो के 22 खण्डो को अत्यधिक जल दोहन करने वाले खण्डो की सूची में शामिल कर चुका है। इस मौके पर शिमला देवी, सीमा वशिष्ठ, बृजपाली, राजो, संजू, महेन्द्री, अल्का निरोज, फुलवती, रितिका, बिसम्बर दयाल, सुधा, सुषमा, मोटी, संजीव आदि मौजूद थी।


loading...
SHARE THIS

0 comments: