Monday, April 16, 2018

गैंग रेप पीडि़ता परिवार सहित बैठी धरने पर, नहीं मिला न्याय तो करेगी आत्म हत्या


फरीदाबाद 16 अप्रैल। केंद्र सरकार हो या राज्य सरकार सभी बेटी बचाओ -बेटी पढ़ाओ की बात तो करती है लेकिन इसी बीजेपी की सरकार में न तो बेटियाँ सुरक्षित है और न ही महिलायें। आये दिन देश के अलग -राज्यों से बच्चियों और महिलाओ के साथ रेप ,गैंग रेप और हत्या जैसी घटनाये सामने आती है। लेकिन सभी को न्याय नहीं मिल पाता और आरोपी खुले आम किसी और शिकार की तलाश में रहते है ,ऐसा ही एक मामला सामने  आया है फरीदाबाद से जहाँ चार महीने  पहले यानि 15 /16 जनवरी की रात को एक महिला  के घर में घुस कर  चार युवकों ने बंधक बना कर महिला के साथ गैंग रेप जैसी वारदात को अन्जाम  दिया था। तभी से महिला आरोपियों के लिए कड़ी -  से कड़ी सजा और अपने लिए न्याय की गुहार लेकर दर -दर की ठोकरें खा रही है लेकिन फरीदाबाद पुलिस पिछले चार महीने से पीडि़ता से चक्कर पर चक्कर लगवा रही है उसकी कहीं  कोई सुनवाई नहीं कर रही है और आरोपी खुलेआम  घूम रहे है। अब महिला ने थक -हार कर न्याय पाने और अपनी आवाज आला अधिकारीयों और मुख्यमंत्री तक पहुँचाने के लिए धरने का सहारा लिया है और वह फरीदाबाद के बादशाह खान चौक पर धरने पर बैठ गई है उसका कहना है की उसे जब तक न्याय नहीं मिल जाता वह धरने पर बैठी रहेगी फिर भी कहीं उसकी सुनवाई नहीं हुई तो वह अपने परिवार के साथ आत्म हत्या कर लेगी। फरीदाबाद के  मिनी जंतर मन्त्र कहे जाने वाले सबसे व्यस्तम चौक पर धरने पर बैठी दिखाई दे रही यह महिला वही गैंग रेप पीडि़ता है जिसके  साथ पिछले 15 /16 जनवरी की रात चार बदमाशों ने घर में घुस कर बंधक बना कर गैंग रेप की घटना को अंजाम दिया था। घटना के बाद पुलिस ने खानापूर्ति के लिए द्घद्बह्म् तो दर्ज कर ली थी। लेकिन घटना को चार महीने बीत गए तभी से महिला न्याय के लिए पुलिस के चककर काट रही है लेकिन पुलिस  महिला की कहीं भी कोई सुनवाई नहीं कर रही है। वहीँ महिला ने घटना के बाद मौके पर पहुंचे सदर थाना इंचार्ज पर भी संगीन आरोप लगाए है महिला का कहना है की घटना के समय चारो आरोपियों ने उसके पति और किरायेदार के साथ मारपीट भी की थी और उसके पति को भी बंधक बनाया गया था सुचना मिलने के बाद पुलिस ने उसके पति को तो कहा कर खुलवा दिया लेकिन उसे चारपाई पर ही बंधे रहे दिया और मौके पर पहुँच कर खुद थाना स्॥ह्र  ने निर्वस्त्र अवस्था में उसके फोटो भी खींचे ,इतना ही नहीं उसके साथ स्॥ह्र और ्रष्टक्क ने गंदे -गंदे सवाल करते हुए भद्दे भद्दे आरोप भी लगाए थे। पीडि़त महिला का कहन  है की वह आरोपियों को सजा और अपने लिए न्याय की मांग को लेकर पिछले चार महीने से पुलिस  के सभी आला अधिकारीयों से मिल चुकी है. लेकिन उसकी कहीं कोई सुनवाई नहीं कर रहा है। इसलिए वह अब थक -हार कर अपने परिवार के साथ धरने बैठी है और मुख्यमंत्री से गुहार लगा रही है की आरोपियों को गिरफ्तार करवा कर उन्हें  कड़ी -कड़ी सजा दिला कर उसे न्याय दिलवाया जाये ,महिला का कहना है की जबतक उसे न्याय नहीं मिलता तबतक वह धरने पर बैठी रहेगी और फिर भी कहीं कोई सुनवाई नहीं हुई तो वह अपने परिवार के साथ आत्म -हत्या कर लेगी। वहीं गैंगरेप पीडिता के पूरे मामले की कार्यवाही के बारे में महिला थाने की इंचार्ज इंदुबाला से बात की गई तो उन्होंने बताया पीडित महिला के परिवार की आरोपी परिवार के साथ पुरानी रंजिश है जिसके चलतेे ये आरोप लगाये गये हैं मगर फिर भी पुलिस को कोर्ट से आदेश हुए है कि पोली ग्राफी और डीएनए टैस्ट करवाय जाये, जिसे जल्द करवाकर कार्यवाही की जायेगी।

loading...
SHARE THIS

0 comments: