Thursday, April 19, 2018

बंद मकानों में सुरंग बनाकर करते थे चोरी, क्राइम ब्रांच बड़खल ने किया गिरफ्तार


Closed houses used to make tunnels, stolen, crime branch arrested

फरीदाबाद(abtaknews.com) 19 अप्रैल,2018; बड़खल क्राइम ब्रांच को मिली बड़ी कामयाबी। क्राइम ब्रांच बड़खल ने गृह भेदन गिरोह के तीन सदस्यों और एक सुनार सहित कुल चार आरोपियों को गिरफ्तार किया। ये गिरोह ताला बंद घरो में रात को चोरी की वारदातों को अंजाम दिया करते थे. गिरोह जायदातर जेवरात चुराया करते थे. चुराय गए जेवरातों को गोल्ड फाइनेंस कंपनी मणप्पुरम और मोटूथ गोल्ड कंपनी में गिरवी रख रूपये कैश किया करते थे.पकडे गए आरोपियों से सोने के सिक्के और जेवरात भी रिकवर किये गए। 

शातिर ग्रह भेदन  गिरोह के तीन शातिर चोर को क्राइम ब्रांच बड़खल ने गिरफ्तार किया है। आरोपी ताला बंद मकानों में रात के समय चोरी की वारदात को अंजाम दिया करते थे. जिसके चलते फरीदाबाद में इस गिरोह का आतंक लम्बे समय से चल रहा था और पुलिस के लिए इन्हे पकड़ना एक बड़ी चुनौती बनी हुई थी. जब इस गिरोह को पकड़ने की ज़िम्मेदारी बड़खल क्राइम ब्रांच को दी गयी तो क्राइम ब्रांच इंचार्ज अनिल छिल्लर की टीम ने कार्यवाही करते हुए इस गिरोह को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की. क्राइम ब्रांच बड़खल के इंचार्ज अनिल छिल्लर ने बताया की उनकी टीम ने गृह भेदन गिरोह के तीन शातिर चोरो को पकड़ने में सफलता हासिल की है जो पिछले  लम्बे समय से ताला बंद घरो की रैकी कर रॉड के माध्यम से ताला तोड़कर घरो में घुस जाते थे और जेवरातों पर हाथ साफ़ किया करते थे. इंचार्ज ने बताया की पकडे गए  आरोपियों के नाम अमन , पवन और राम सिंह है इसके अलावा संजय वर्मा नामक ज्वेलर को भी गिरफ्तार किया गया है.  इंचार्ज ने बताया की यह गिरोह इतना शातिर है की चुराए गए गहनों को कैश करने के लिए यह चोर मणप्पुरम और मोटूथ गोल्ड फाइनेंस कंपनियों में गिरवी रख दिया करते थे जिसके एवज में उन्हें चुराए गए पैसो के बदले अच्छी रकम आसानी से मिल जाती थी. इंचार्ज ने बताया की चूँकि गोल्ड फाइनेंस कंपनी चांदी के जेवरात की खरीद नहीं करती तो यह लोग संजय वर्मा नाम के एक ज्वेलर को चाँदी  के गहने बेच कर रूपये कैश करते थे. उन्होंने बताया की गिरोह के तीन सदस्यों सहित उक्त ज्वेलर को भी गिरफ्तार कर लिया गया है और पूछताछ जारी है। 


   

loading...
SHARE THIS

0 comments: