Monday, April 2, 2018

हवन के साथ हुआ आशा ज्योति विद्यापीठ स्कूल में नए सत्र का शुभारंभ


Launch of New Session at Asha Jyoti Vidyapeeth School with Havan

फरीदाबाद(abtaknews.com) 02 अप्रैल,2018; सेक्टर-65 बाईपास रोड स्थित आशा ज्योति विद्यापीठ के नए सत्र का शुभारंभ आज हवन के साथ किया गया। इस मौके पर स्कूल के चेयरमैन सत्यवीर डागर तथा प्राचार्य विदु ग्रोवर सहित सभी छात्र छात्राओं एवं क्षेत्र के विशिष्ट लोगों ने हवन में हिस्सा लिया। हवन के बाद उपस्थित बच्चों एवं अभिभावकों को संबोधित करते हुए स्कूल की प्राचार्य श्रीमती विधु ग्रोवर ने कहा कि आज एक बार फिर से हम स्कूल के नए सत्र का शुभारंभ हवन के साथ इसीलिए कर रहे हैं कि जो कुछ भी विसंगतियां आ रही है आज हमने उन सभी की आहुति हवन में डाल दिए और इस नए सत्र में हम नई ऊर्जा वह आत्मविश्वास के साथ बच्चों के भविष्य के निर्माण में लगेंगे। उन्होंने कहा कि इस साल भी उनका एक ही उद्देश्य की वह बच्चों की उस प्रतिभा को निखारने में कामयाब रहे जिस प्रतिभा के हमारे बच्चे धनी है चाहे फिर वह किसी भी कला में क्यों न हो। श्रीमती ग्रोवर के अनुसार पिछले 3 सालों मैं जिस  प्रकार से आशा ज्योति विद्यापीठ स्कूल के बच्चों की प्रतिभा का विकास हुआ है, ऐसा अब से पहले कभी नहीं देखा श्रीमती ग्रोवर ने कहा कि स्कूल के चेयरमैन सत्यवीर डागर ने सीबीएसई से स्थाई मान्यता मिलने के बाद स्कूल में सभी सुविधाएं उपलब्ध कराने का काम पूरा किया है जो कि किसी बड़े आधुनिक स्कूल में होनी चाहिए। इसके लिए मैं सभी स्कूल के छात्र छात्राओं तथा उन के अभिभावकों को बधाई देती हूं क्योंकि यह उनके सहयोग और जोश के चलते संभव हो पाया है कि तीन साल के छोटे से कार्यकाल में आशा ज्योति विद्यापीठ एक पूर्ण विकसित स्कूल के रूप में आपकी सेवा के लिए तैयार है। इस मौके पर स्कूल के चेयरमैन सत्यवीर डागर ने आए हुए सभी बच्चों एवं अभिभावकों का स्वागत करते हुए कहा कि जिस उद्देश्य को लेकर उन्होंने इस स्कूल की नींव रखी गई है, अब उन को विश्वास है कि वह अपने उद्देश्य में निश्चित तौर पर सफल होंगे क्योंकि जिस प्रकार के रिजल्ट पिछली 3 परीक्षा में आशा ज्योति विद्यापीठ के बच्चों ने दिए मैं उसके लिए सभी बच्चों के अभिभावको तथा स्कूल के समस्त स्टाफ को बधाई देता हूं। उनके अनुसार उनका यह प्रयास है कि आशा ज्योति विद्यापीठ के बच्चे निश्चित तौर पर समाज में अपनी अग्रणी भूमिका निभाएं और इस तरह की तैयारी करने के लिए आशा ज्योति विद्यापीठ रुप से तैयार है।  उन्होंने कहा कि बेहतर शिक्षा और संपूर्ण विकास उनका इस सत्र का आइकॉन रहेगा। इस मौके पर उपस्थित स्कूल के छात्र छात्राओं के अभिभावकों ने हवन द्वारा सत्र की शुरुआत करने की परंपरा का निरंतर निर्वहन करने के लिए स्कूल प्रशासन तथा स्टाफ का आभार व्यक्त किया अभिभावकों का कहना था कि जिस प्रकार से आशा ज्योति विद्यापीठ मेहर सत्र का शुभारंभ वैदिक हवन से किया जाता है यह निश्चित तौर पर उनके बच्चों में धार्मिक भावना के साथ साथ अपने अतीत की जानकारी लेने की जिज्ञासा पैदा करता है इसके लिए वह स्कूल प्रबंधन के आभारी हैं। अभिभावकों का कहना था कि अब वह यह मांगते हैं कि अपने बच्चों को इस स्कूल में प्रवेश दिलाने का उनका फैसला बिल्कुल सही था।


loading...
SHARE THIS

0 comments: