Monday, April 9, 2018

आशा विद्यापीठ स्कूल में तीन दिवसीय चैंपियनशिप का समापन,पश्चिमी बंगाल चैंपियन

Completion of three-day championship at Asha University School, West Bengal Champion

फरीदाबाद(abtaknews.com) 09 अप्रैल,2018 ; अगले साल तेलंगाना के हैदराबाद में मिलने के प्रण के साथ ही तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय योग चैम्पियनशिप सेक्टर 65 स्थित आशा ज्योति विद्यापीठ में सम्पन्न हो गई। इस प्रतियोगिता में पश्चिम बंगाल को ओवर आल विजेता घोषित किया गया तो त्रिपुरा रनअप रहा। नवामिता दास गुप्ता को बालिकाओं में सर्वश्रेष्ठ खिलाडी घोषित हुई तों बाल वर्ग में अमिनोघोष को सर्वश्रेष्ठ खिलाडी चुने गए। केरल के के पी भास्कर मेनन को लाईफटाईम अचिवमेंट पुरुस्कार से नवाजा गया। उल्लेखनीय है कि गत शुक्रवार से आशा ज्योतिविद्यापीठ में उक्त राष्ट्रीय चैम्पियनशिप चल रही थी, जिसमें देश भर के 20 राज्यों की टीमों ने हिस्सा लिया। इस प्रतियोगिता में कुल मिला 500 खिलाडियों ने अपनी योग प्रतियोगिता का प्रदर्शन किया तथा कडे मुकाबलों के बाद विजेताओं की घोषणा की गई। प्रतियोगिता में पुरुष वर्ग के सात ग्रुपों तथा महिला वर्ग के सात ग्रुपों में प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया, विजेताआं को अलग अलग वर्ग में 148 मैडलों से सम्मानित किया गया। इस मौके पर उपस्थित खिलाडियों को सम्बोधित करते हुए आशा ज्योति विद्यापीठ के चैयरमेन सत्यवीर डागर ने कहा कि उनको इस प्रतियोगिता की मेजबानी करने में जो आनंद मिल रहा था वह आज इस समापन समारोह के मुख्यातिथि में नही हैं, पर वह आज इस सम्मान के लिए इंडियन योगा फैडरेशन का आभार व्यक्त करता हुं। लेकिन मैं इस संस्था का आभार व्यक्त करता हुं कि इस संस्था ने आशा ज्योति विद्यापीठ को इस आयेाजन के लिए चुना। उन्होंने कहा कि मुझे यह देख कर आश्चर्य हुआ कि इस देश में कितने प्रतिभाशाली बच्चे हैं मैं उनकी प्रतिभा को देख कर दंग हुं और निश्चित तौर पर आशा ज्योति विद्यापीठ के छात्र-छात्राओं ने भी इस प्रतियोगिता से प्रेरणा ली है। उन्होंने सभी विजेताओं को बधाई देते हुए कहा कि जो खिलाडी असफल रहे हैं उनको अधिक मेहनत कर यह प्रण लेना चाहिए कि हैदराबाद से वह ही पुरुस्कार अगले साल जरुर जितेंगें। उन्होंने कहा कि वह एशोशिएसन के महासचिव मृनाल चक्रवती की उस मांग से सहमति रखते हैं कि योगासन को खेल कूद प्रतियोगिता की तरह से खेलकूदों में शामिल करना चाहिए, क्योकि वास्तव में योगासन एक प्रतियोगिता ही है। उन्होंने कहा कि आज देश में उनकी सरकार नहीं है, लेकिन जैसे ही राहुल गांधी देश की कमान संभालेगें उनका यह प्रयास होगा कि वह इस मांग को पूरा कराने का काम करें, इसके लिए वह अपने प्रदेशाध्यक्ष अशोकतंवर से अभी बात भी करेंंगें।द  इस मौके पर उपस्थित खिलाडियों को सम्बोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस के फरीदाबाद प्रभारी महासचिव मोहम्मद विलाल ने कहा कि आज समय की जरुरत है कि हम योगासन को अपने जीवन का अंग बनाएं और जिस प्रकार सं इंडियन योगा फैडरेशन इसमें काम कर रही है वह अपने आप में तारीफ की बात है और सबसे बडी बात यह है कि पिछले 37 सालों से लगातार इस काम में लगे रहना बहुत बडी बात है। उन्होंने भी सत्यवीर डागर की बात का समर्थन करते हुए कहा कि वह जल्द ही इस मामल ेमें हरियाणा कांग्रेसाध्यक्ष अशोक तंवर से यह बात करेंगें कि आपकी योगासन को खेलकूद प्रतियोगिताओं में शामिल करने की मांग पर बिचार करें तथा इसको कांग्रेस की खेलनीति में शामिल कराने के प्रयास करें।  इससे पूर्व यहां पर बोलते हुए फैडरेशन के महासचिव मृणाल चक्रवती ने कहा कि आज योगा का प्रचार प्रसार तो है पर फिर भी सरकार इस योगासन को खेलकूद का दर्जा नहीं दे रही है यह अपने आप में दुख का बिषय है तथा हम सरकार ने मांग करते हैं कि अब सही समय है कि योगासन को खेलकूद का दर्जा दिया जाए। साथ ही उन्होंने मांग की कि जो योगा के खिलाडी राष्ट्रीय स्तर पर अपना स्थान बनाते हैं उनको रेल यात्रा में भी सरकार से सहायता मिलनी चाहिए। इस मौके पर बूजभूषण पुरोहित, भाजपा नेता अमन गोयल, कर्नल गोपाल सिंह, विजेन्द्र नेहरा, एम मरिअपन, जीशु चक्रवती, डी पुट्टी गोडा, एन सिंह, गोपाल डोन, अजय शास्त्री प्रमुख रुप से उपस्थित थे। 




loading...
SHARE THIS

0 comments: