Thursday, April 19, 2018

मायके में पत्नी की पति ने गोली मारकर की हत्या, खुद भी किया सुसाईड


 फरीदाबाद 19 अप्रैल। पति ने पत्नी को मारी गोली और फिर अपने आप को भी गोली मारकर उतारा मौत के घाट । घटना फरीदाबाद सेक्टर 30 कोठी नंबर 193 की है। जंहा पत्नी निक्की अपने मयके में रहती थी। पंजाब से आए पति ने पत्नी को उसकी मां के घर में ही मारी गोली और फिर खुद भी गोली मारकर अपनी जीवनलील समाप्त कर ली।  पति की मौके पर ही हुई मौत, जबकि पत्नी ने हॉस्पिटल पहुंचने से पहले दम तोड़ दिया। मौके पर पहुंची पुलिस जांच में जुट गई है। मर्डर और सुसाइड के कारणों का नहीं अभी तक सुराग नहीं लगा है। पुलिस ने मौके से एक जिंदा कारतूस और देशी पिस्तौल बरामद कर ली है। मृतका की मां का कहना है कि उसका दामाद नरेन्द्र शराब पीकर उसकी पुत्री को मारता पीटता था। इसी कारण वह उसके पास फरीदाबाद रह रही थी। जबकि पति नरेन्द्र चंडीगढ़ में केबल का काम करता है। वह कल रात ही यहां आया था। खाना खाकर रात को सो गया था। सुब्ह उसने चरणजीत उर्फ निक्की को उस समय पीछे से गोली मार दी, जब वह वासिंग मशीन में कपड़े धो रही थी। इसके बाद उसने स्वयं को भी गोली मार ली। दोनो के दो बच्चे है। जिनमें एक साल का पुत्र और तीन साल की पुत्री है, जो इस घटना के बाद अनाथ हो गए। 

 मायके में रह रही पत्नी चरणजीत उर्फ निक्की की पति नरेन्द्र ने अचानक गोली मारकर हत्या कर दी और स्वयं को भी गोली मारकर सुसाइड कर लिया। सैक्टर- 30 के मकान नम्बर 193 में इस घटना से इलाके के सभी लोग शतब्ध है कि आखिर ऐसी कोन सी वजह है कि पति नरेन्द्र ने यह कदम उठाया। मृतका की मां की माने तो नरेन्द्र कल रात को उनके घर आया था। रात को खाना खाकर सो गया। सुब्ह जब बच्चे स्कूल चले गए तो उसकी पुत्री कपड़े धो रही थी कि अचानक नरेन्द्र ने पीछे से निक्की को गोली मार दी और फिर स्वयं को भी गोली मार ली। इससे दोनो की ही मौत हो गई। गोली की आवाज सुनकर वह अन्दर से जब बहार आई तो दोनो लहुलुहान हालत में थे। नरेन्द्र का विवाह चार साल पूर्व हुआ था। अमृतसर पंजाब का रहने वाला नरेन्द्र उसकी पुत्री को शराब पीकर मारता-पीटता था। उसकी पुत्री अपने मयके में रह रही थी। 
वहीं पुलिस की माने तो सूचना मिलते ही वे मौके पर पंहुच गए दोनो को अस्पताल ले जाया गया। लेकिन रास्ते ही उनकी मौत हो गई। मौके से उन्हे एक जिंदा कारतूस और देशी पिस्तौल मिले है। दोनों के दो बच्चे है। यह कदम नरेन्द्र ने क्यों उठाया, इसकी अभी जांच की जा रही है।  

loading...
SHARE THIS

0 comments: