Thursday, April 5, 2018

नगर निगम कर्मचारियों की टूल डाऊन हड़ताल आज चौथे दिन भी जारी, किया प्रदर्शन


Municipal corporation employees' tool down strike today continued for the fourth day, performed

फरीदाबाद, 5 अप्रैल(abtaknews.com)नगर निगम कर्मचारियों की टूल डाऊन हड़ताल आज चौथे दिन भी जारी रही। जिसके कारण स्मार्ट सिटी फरीदाबाद गंदगी के ढेरों में तब्दील होती नजर आ रही है। जबकि स्मार्ट सिटी के सीईओ व नगर निगम फरीदाबाद के आयुक्त मोहम्मद साइन आंख बंद करके आराम से अपने कार्यालय में बैठे है। उनको फरीदाबाद की जनता जो गंदगी में से रोज गुजर रही है। कोई लेना-देना नहीं है। शहर के मुख्य बाजारों मार्किट नम्बर एक में गंदगी के अम्बार लगे हुए है। नम्बर पांच की मार्किट में भी गंदगी के ढेरों के अम्बार लग गए है। बल्लभगढ़ शहर की मेन बाजार व इस आसपास के बाजारों तथा ओल्ड में भी टूल डाऊन हड़ताल का असर व्यापक स्तर पर दिख रही है। केवल निगम आयुक्त की हठधर्मिता के कारण जनता को असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है।

चौथे दिन की हड़ताल की अध्यक्षता नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के जिला प्रचार सचिव प्रेमपाल ने की जबकि मंच का संचालन कर्मी नेता श्रीनंद ढकोलिया ने किया।कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए नगर निगम सफाई यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर व जिला सचिव नानकचंद खैरालिया ने कहा कि पूरा शहर गंदगी की चपेट में आ चुका है। लेकिन आयुक्त अपनी हठधर्मिता दिखा रहे है। आन्दोलनरत कर्मचारियों से बातचीत करने की बजाय वह स्थापना अधिकारी के कहने पर चल कर आन्दोलन को लम्बा खींचने के लिए मजबूर कर रहे है। उन्होंने कहा कि जब तक 47 सफाई कर्मचारियों को दिया हुआ नोटिस वापिस नहीं लिया जाता और 688 कर्मचारियों को निगम के रोल पर, नियमित कर्मचारियों को एलटीसी का भुगतान नहीं किया जाता है, तब तक आन्दोलन जारी रहेगा।

प्रधान बालगुहेर ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर द्वारा गु्रप सी व डी की भर्तियों व सफाई कर्मचारियों तथा चौकीदारों शिक्षा की शर्त को हटाकर बाल्मीकि समाज को रोजगार के द्वार खोल है। सरकार के इस निर्णय का वह स्वागत करते है। बालगुहेर ने कहा कि कल शुक्रवार को निगम के हजारों हड़ताली कर्मी महापौर सुमन बाला के कैम्प कार्यालय का घेराव करेगें। आज की हड़ताल को अन्य के अलावा कर्मी नेता गुरचरण खांडिय़ा, रोहताश रेढू, परशराम अधाना, वेदभड़ाना, सुदेश कुमार, रघुबीर चौटाला, बल्लू चिण्डालिया, महेश मंगू, राजबीर, देविन्द्र मंझावली, जितेन्द्र, महेन्द्र, देशराज डाबर, जगदीश बालगुहेर, सूरज कीर, विनोद, राजेश फेंटमार, सतपाल मेंढवाल, नरेश भगवाना, रामवती सारन, सलोचना, संतोष, कमलेश माया, कमला, ज्ञानवती, शकुन्तला आदि ने भी सम्बोधित किया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: