Friday, April 20, 2018

भत्तों में बढोत्तरी न करके 75 करोड़ प्रति माह डकार रही है हरियाणा भाजपा सरकार ; लाम्बा

Haryana Government of Haryana is not paying Rs 75 crore per month without increasing the allowances; Lambba

फरीदाबाद, 20 अप्रैल (abtaknews.com)सरकार कर्मचारियों के जनवरी, 2016 से देय मकान किराया व मैडीकल भत्तों में बढोत्तरी न करके लगभग 75 करोड़ रूपये प्रति माह डकार रही है । जिसके कारण कर्मचारियों व अधिकारियों में सरकार के खिलाफ गुस्सा बढता जा रहा है । यह आरोप सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के महासचिव सुभाष लाम्बा ने 29 अप्रैल को जीन्द में होने वाली कर्मचारी ललकार रैली की तैयारियों को लेकर चलाये जा रहे जन सम्पर्क अभियान के तहत आयोजित कर्मचारियों की सभाओं को संबोधित करते हुए लगाया । अभियान के तहत शुक्रवार को नगर निगम,शिक्षा,महिला एंव बाल विकास विभाग व बिजली आदि विभागों में गेट मीटिंगों की गई । इन मीटिंगों में महासचिव लाम्बा के अलावा जिला प्रधान अशोक कुमार, सचिव युद्वबीर सिंह खत्री, वरिष्ठ उप प्रधान गुरचरण खाडियां, अध्यापक नेता राज सिंह, भीम सिंह, जग मोहन गुप्ता  अमित कुमार  , नगर निगम यूनियन के नेता बलबीर बालगुहेर, श्रीनन्द डकोलियां  व बिजली कर्मी नेता करतार सिंह आदि नेता थे ।
महासचिव लाम्बा ने कर्मचारी सभाओं को सम्बोधित करते हुए कहा की केन्द्र सरकार ने अपने कर्मचारियों के भत्तों में नये वेतन के अनुसार जुलाई, 2017 बढ़ोतरी कर दी थी। लेकिन सरकार ने जानबूझ कर एक कमेटी बनाकर मामले को लटकाया हुआ है । 11 अगस्त, 2017 को माननीय मुख्यमंत्री ने सकसं की मीटिंग में 1नवबर,2017 से भत्तों में बढ़ोतरी करने का आश्वासन दिया था । जिस पर अभी तक अमल न होने से कर्मचारियों व अधिकारियों को प्रति माह 2500 से 5000 रूपये मकान किराया व मैडीकल भत्ते का नुकसान उठाना पड़ रहा है ।उन्होने कहा की रैली में नयी अंशदायी पैंशन स्कीम को समाप्त कर पुरानी पैंशन स्कीम को बहाल करने, ठेका प्रथा समाप्त करके 2 वर्ष की सेवा पुरी कर चुके सभी प्रकार के पार्ट टाइम व कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने, पक्का होने तक समान काम के लिए समान वेतन देने, सभी कर्मचारियों व पैंशनरज एंव उनके आश्रितों को वास्तविक खर्च पर आधारित कैसलेश मैडीकल सुविधा देने, बढती ऊम्र के हिसाब से पैंशन बढाने, खाली पड़े लाखों पदों के पक्की भर्ती से भर कर जन सेवा के विभागों को मजबूत करने, वर्षो से विभिन्न विभागों में ठेके पर कार्यरत कर्मियों के पदो को रिक्त मानकर शरू की गई भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगाने आदि मांगों को प्रमुखता से उठाया जायेगा । उन्होने दावा किया की ललकार रैली ऐतिहसिक एंव अभूतपूर्व होगी ।


loading...
SHARE THIS

0 comments: