Thursday, April 12, 2018

कला और हुनर के संगम ‘एलीमेंट्स कलमायका-2018’ का आगाज,डांस की मस्ती

'Elements Kalamayka-2012', a combination of art and skill

फरीदाबाद, 12 अप्रैल,2018(abtaknews.com)वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, फरीदाबाद के वार्षिक सांस्कृतिक एवं तकनीकी उत्सव ‘एलीमेंट्स कलमायका-2018’ का आज रंगारंग आगाज हुआ। इस बार उत्सव का थीम ‘उद्भव’ के तहत मनाया जा रहा है और विद्यार्थी कागज की बजाये डिजिटल माध्यमों के उपयोग को बढ़ावा दे रहे है। 
'Elements Kalamayka-2012', a combination of art and skill

उत्सव की शुरूआत विविधत रूप से हवन से हुई, जिसमें विश्वविद्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों तथा विद्यार्थी क्लबों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। उत्सव का पहला दिन पूरी तरह से ‘सृजन’ क्लब के कला-कृतियों के नाम रहा। वाईएमसीए विश्वविद्यालय को उत्सव के रंग में रंगने में ‘सृजन’ क्लब की कड़ी मेहनत देखते ही बनती थी। इंजीनियरिंग पृष्ठभूमि से संबंध रखने के बावजूद विद्यार्थियों की कला के प्रति रचनात्मक सोच देखते ही बनती है। विभिन्न विषयों को लेकर दिवारों पर बनाई गई ग्रैफिटी पेंटिंग्स उत्सव को आकर्षक बना रही है। कलाम चैक पर जर्जर पड़े पेड़ के तने को विद्यार्थियों ने अपनी रचनात्मकता दिखाते हुए इस तरह सजाया कि मानो यह अभी बोल उठे। विश्वविद्यालय का मुख्य रिसेप्शन ‘हैरी पाॅटर’ थीम पर सजाया गया है, जो विद्यार्थियों के आकर्षण का मुख्य केन्द्र रहा। सेल्फी को लेकर विद्यार्थियों में दिलचस्पी को देखते हुए अलग-अलग जगह पर सेल्फी प्वाइंट्स भी बनाये गये है, जिसका विद्यार्थी खूब लुत्फ उठा रहे है। झलक क्लब द्वारा लगाई गई फोटो प्रदर्शन लगाई गई है, जहां विद्यार्थियों के बेहतरीन फोटो को प्रदर्शित किया गया है। 
'Elements Kalamayka-2012', a combination of art and skill

शौकीन ने भी विद्यार्थियों को खूब गुदगुदाया-- उत्सव में पहले दिन स्टैंड-अप कॉमेडियन डाॅ. ललित शौकीन ने भी विद्यार्थियों को खूब गुदगुदाया। पेशे से वैज्ञानिक हरियाणवी लहजे में अपने हास्य रस के लिए पहचाने जाते है और उन्हें हरियाणवी हास्य को ग्लोबल पहचान दिलाने में अहम भूमिका निभाई है। डाॅ. शौकीन ने अपने चिर-परिचित अंदाज से विद्यार्थियों का खूब मनोरंजन किया और दर्शकों ने खूब ठहाके लगाये। 

 ‘जूम्बा’ पर विद्यार्थियों ने जमकर मस्ती की-- उत्सव के दौरान विवेकानंद मंच द्वारा आयोजित ‘जूम्बा’ इवेंट विद्यार्थियों का सबसे पंसदीदा इवेंट रहता है, जिसमें डीजे की संगीत धुनों पर विद्यार्थियों से लेकर अध्यापक और कर्मचारी सभी खुलकर लुत्फ उठाते है। इनमें भी विद्यार्थियों ने जमकर मस्ती की और संगीत का आनंद लिया। उत्सव के पहले दिन 3डी मैटरिक्स, बिग बाॅस, बिग फैट हंट, कोड वार, ब्लैक आउट, टैटू मेकिंग जैसे इवेंट आयोजित किये गये, जिसका विद्यार्थियों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

‘कव्वाली’ ने खूब समां बांधा--उत्सव के पहले दिन तरन्नुम क्लब द्वारा प्रस्तुत कव्वाली ने भी खूब समां बांधा। इस दौरान विद्यार्थियों ने शानदार सूफी कलाम सुनाकर दिल जीत लिया। लगभग आधा घंटा चले इस कार्यक्रम को लेकर विद्यार्थी की दिलचस्पी देखते ही बनती थी। पूरे कार्यक्रम के दौरान विश्वविद्यालय का सभागार खचाखच भरा रहा। 

हमारा 
प्रयास है कि विद्यार्थी खुलकर प्रतिभा और कौशल दिखायेः प्रो. दिनेश कुमार

कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि विश्वविद्यालय का सांस्कृतिक एवं तकनीकी उत्सव ‘एलीमेंट्स कलमायका’ विद्यार्थियों को खुलकर अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर प्रदान करतेा है। उत्सव में हर वर्ष कुछ नया देखने को मिलता है और विश्वविद्यालय प्रशासन का भी हरसंभव प्रयास रहता है कि विद्यार्थियों को वार्षिक उत्सव के आयोजन में पूरी छूट मिले ताकि वे खुलकर अपनी प्रतिभा एवं कौशल दिखा पाये।

loading...
SHARE THIS

0 comments: