Saturday, April 14, 2018

एलिमेंट्स कलमायका-2018‘रंगरीति’ में भारतीय पारम्परिक परिधानों व संस्कृति की झलक


Elements Kalamayka-2018 Glimpses of Indian traditional costumes and culture seen in 'Rangirati'

फरीदाबाद, 14 अप्रैल(abtaknews.com) वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, फरीदाबाद के वार्षिक सांस्कृतिक एवं तकनीकी उत्सव ‘एलीमेंट्स कलमायका-2018’ में भारतीय संस्कृति की झलक को दर्शाता ‘रंगरीति’ सब के आकर्षण का केन्द्र रहा। संगीत की धुन पर रैंप पर चहल-कदमी करते विद्यार्थियों ने न सिर्फ भारतीय पारम्परिक वेशभूषा को खूबसूरत ढंग से प्रदर्शित किया, बल्कि प्रोफेशन मॉडल्स की तरह नजर आये। इस शो में विद्यार्थियों द्वारा पहनी गये परिधान विशेष रूप से डिजाइन किये गये थे। सभी ने शो और परिधानों काफी पसंद किया गया। शो के सफल आयोजन में ख्याति मल्होत्रा, मनीष चौधरी, प्रशांत नागर तथा जैबा खान का प्रमुख योगदार रहा।कार्यक्रम का संचालन डाॅ. सोनिया बंसल की देखरेख में किया गया।
 

Elements Kalamayka-2018 Glimpses of Indian traditional costumes and culture seen in 'Rangirati'
प्रतिभा प्रदर्शन का बेहतरीन मंच है कलमायका: कुलपति प्रो. दिनेश कुमार--सांस्कृतिक संध्या में कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय की प्रोफेसर श्रीमती रंजना अग्रवाल मुख्य अतिथि रही तथा विद्यार्थियों को सफल आयोजन के लिए शुभकामना दी। कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने की। विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि कलमायका एक ऐसा मंच है जो विद्यार्थियों को अपनी प्रतिभा के अनुरूप क्षमता दिखाने का अवसर प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के कम ही मौके आते है। उन्होंने कहा कि यह प्रसन्नता का विषय है कि विश्वविद्यालय के विद्यार्थी न केवल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में आगे बढ़ रहे है, बल्कि अन्य क्षेत्रों में भी विश्वविद्यालय का नाम रोशन कर रहे है। 
Elements Kalamayka-2018 Glimpses of Indian traditional costumes and culture seen in 'Rangirati'

तीसरे दिन के प्रमुख आकर्षण में से एक विविधा क्लब द्वारा आयोजित नुक्कड़ नाटक प्रतियोगिता रही, जिसमें फरीदाबाद व एनसीए के विभिन्न कालेज व थियेटर क्लब के विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया। विश्वविद्यालय की 21 सदस्यीय टीम द्वारा ‘राजनीति और अपराध’ को लेकर नाटक मंचन किया और राजनीति को अपराधमुक्त बनाने के लिए लोगों को जागरूक किया। विविधा क्लब द्वारा प्रस्तुत माइम को भी काफी सराहना मिली। इसके अलावा, तीसरे दिन के अन्य इवेंट्स में नटराज क्लब का ‘डांस युअर हार्ट आउट’, तरन्नुम क्लब का ‘डम शैरार्ट’, एकलव्य क्लब का काॅक फाइट, अनन्या क्लब का ‘काव्योत्सव’, सृजन क्लब की कलाकृति प्रतियोगिताएं प्रमुख रही। इसके अलावा, दिनभर फन इवेंट्स में विद्यार्थियों ने जमकर मस्ती की। 

जसप्रीत की कॉमेडी ने किया धमाल-- ‘एलीमेंट्स कलमायका के दूसरे दिन की सांस्कृतिक संध्या में स्टैंड-अप काॅमेडियन जसप्रीत सिंह ने विद्यार्थियों को खूब गुदगुदाया। उन्होंने अपने चिर-परिचित अंदाज में दिल्ली के जीवन शैली, सड़क पर लोगों के स्वभाव को केन्द्र में रखते हुए व्यंग्य किया और विद्यार्थियों को खूब हंसाया। ‘लूमोस्टेंजा’ इवेंट में विद्यार्थियों ने दिखाये इंजीनियरिंग के जौहर--कला और इंजीनियरिंग का संगम कोई वाईएमसीए विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों से सीखे। एलईडी लाइट के कास्ट्यूम पहनकर विद्यार्थियों ने माइकल जैक्सन डांस स्टाइल पर अपनी प्रस्तुति दी। यह प्रस्तुति सांस्कृतिक संध्या का मुख्य आकर्षण रही। यह प्रस्तुति विश्वविद्यालय के समर्पण व माइक्रोबर्ड क्लब द्वारा संयुक्त रूप से की गई थी। इस प्रस्तुति को मंच पर लाने से पहले विद्यार्थियों ने कई महीनों की कड़ी मेहनत करते हुए कास्ट्यूम तैयार किये थे, जिसमें कला और तकनीक का फ्यूजन काबिले तारीफ रहा। सभी ने इस प्रस्तुति को काफी सराहा।
Elements Kalamayka-2018 Glimpses of Indian traditional costumes and culture seen in 'Rangirati'

कलमायका में भूतपूर्व छात्रों के साथ मिलन समारोह --
कलमायका में वाईएमसीए विश्वविद्यालय के भूतपूर्व छात्रों की भी भागीदारी देखने को मिल रही है। विश्वविद्यालय की एलुमनई एसोसिएशन ‘माॅब’ द्वारा उत्सव के दौरान भूतपूर्व छात्रों का मिलन समारोह आयोजित किया गया, जिसमें नगर निगम फरीदाबाद के उप महापौर मनमोहन गर्ग मुख्य अतिथि रहे। श्री गर्ग वाईएमसीए संस्थान में 1986 बैच के विद्यार्थी रहे है। इसके अलावा, वाइस एयर मार्शल एलएन शर्मा, बीएमडब्ल्यू के इंडियन महाप्रबंधक अनिल कुमार के अलावा औद्योगिक जगत में अहम स्थान रखने वाले विश्वविद्यालय के भूतपूर्व विद्यार्थी मौजूद थे। उन्होंने विश्वविद्यालय के विभिन्न क्लबों के सदस्यों से मुलाकात की तथा उत्सव की सफलता पर बधाई दी।

loading...
SHARE THIS

0 comments: