Friday, April 20, 2018

गांव भूपानी में प्रधानमंत्री एलपीजी पंचायत का आयोजन, 200 महिलाओं को मुफ्त गैस चूल्हा


फरीदाबाद(abtaknews.com) 20 अप्रैल,2018; उज्वला दिवस पर ग्रेटर फरीदाबाद के गांव भूपानी में प्रधानमंत्री एलपीजी पंचायत के तहत रैनबो गैस एजेंसी और पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के सहयोग से एक पंचायत कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें गांव के लोगों को रसोई गैस के फायदे और प्रयोग करने के तरीके बताये गये तो वहीं बीपीएल धारक करीब 200 महिलाओं को मुफ्त में एलपीजी गैस चूल्हा वितरित किये गये। सरकार के ध्येय के अनुसार जल्द ही सभी गांवों को धंूआ मुक्त कर दिया जायेगा। इस मौके पर पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के आला अधिकारी, ग्राम सरपंच और रैनबो गैस एजेंसी के चेयरमैन हेमसिंह राणा मौजूद रहे। 

गांवों में लकडी और उपलों से बनने वाले खाने के दौरान निकलने वाले धूंए से पर्यावरण और महिलाओं के स्वास्थ्य की ङ्क्षचता करते हुए सरकार ने उज्जवला योजना की शुरूआत की थी जिसे सफल बनाने के लिये आज उज्जवला दिवस के अतर्गत ग्रेटर फरीदाबाद के गांव भूपानी में प्रधानमंत्री एलपीजी पंचायत का आयोजन किया गया जिसमें पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के आला अधिकारी,इंडियन ऑयल कार्पोरेशन जनरल मैनेजर मुकेश धीमन, रैनबो गैस एजेंसी के चेयरमैन हेमसिंह राणा, जिला पार्षद जगत सिंह एडवोकेट,सरपंच संजय भाटी, भाजपा कार्यकर्ता कमल सौरोत और किरण सौरोत सहित दर्जनों लोग मौजूद रहे। जिन्होंने पहले एलपीजी पंचायत के तहत ग्रामीणों को रसोई गैस के उपयोग की जानकारी दी और फिर करीब 200 महिलाओं को गैस चूल्हा वितरित किये। 


महिला भाजपा नेत्री किरण सौरोत ने कहा कि एलपीजी गैस चूल्हा मिलने से महिलाओं को लाभ मिलेगा, समय से खाना बनाने के बाद महिलायें घर परिवार की आर्थिक मदद भी कर सकेेंगी और अपना स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा।रैनबो गैस एजेंसी के चेयरमैन हेमसिंह राणा ने अबतक न्यूज़ पोर्टल टीम को बताया कि कुछ साल पहले उनकी एजेंसी के गोदाम में पर सिलेंडर लेने के लिये सैंकडों लोगों की लाईनें लगती थी मगर भाजपा सरकार आने  के बाद घर - घर तक रसोई गैस पहुंचाई जा रही है। उनका ध्येय ग्रेटर फरीदाबाद के गांवों को धूंआ मुक्त बनाना है जो कि जल्द ही पूरा हो जायेगा। क्योंकि अब तक गांवों में 80 से 90 प्रतिशत तक कनैक्शन हो चुके हैं जल्द ही गांवों से धुआँ गायब हो जायेगा।


loading...
SHARE THIS

0 comments: