Friday, March 16, 2018

एशियन ने खोला झारखंड के धनबाद में अस्पताल, मुख्यमंत्री ने किया उद्घाटन


फरीदाबाद 16 मार्च 2018(abtaknews.com ) धनबाद स्थित एशियन द्वारकादास जालान सुपर स्पेश्यालिटी अस्पताल का उद्घाटन झारखंड के माननीय मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास जी के करकमलों द्वारा किया गया। इस दौरान एशियन अस्पताल के चेयरमैन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ. एन.के पांडे उनकी अर्धांगिनी श्रीमति पद्मा पांडे, डॉ. प्रशांत पांडे, श्री अनुपम पांडे, डॉ. पी.एस आहुजा,डॉ. रमेश चांदना, डॉ. हिलाल अहमद, डॉ.मृणाल शर्मा, डॉ. रोहित नैय्यर, डॉ. सुब्रत अखौरी, शैलेश झां, एशियन द्वारकादास जालान सुपरस्पेश्यालिटी अस्पताल के ट्रस्टी बी.पी. डालमिया चेयरमैन, राजीव शर्मा सेक्रेटरी जीवन रेखा ट्रस्ट, केशव हरोडिय़ा और संजीव अग्रवाल आदि अस्पताल के अन्य सदस्य भी मौजूद रहे।

एशियन द्वारकादास जालान सुपरस्पेश्यालिटी अस्पताल इस दौर का ऐसा आधुनिक अस्पताल है जहां एक ही छत के नीचे विभिन्न प्रकार के रोगों का इलाज संभव है। इनमें कार्डियोलॉजी, ऑर्थोपेडिक्स, न्यूरोसर्जरी, यूरोलॉजी, गैस्ट्रोइंट्रोलॉजी, प्रसूति एवं स्त्री रोग, बाल रोग, सामान्य रोग, एडवांस सर्जरी, कान, नाक व गला, दंत चिकित्सा, ब्लड बैंक, क्रिटीकल केयर यूनिट ऑपरेशन थियेटर्स, इमेजिंग, रेडियोलॉजी, पैथोलॉजी और 24घंटे आपातकालीन सुविधाएं उपलब्ध हैं और यहां जल्दी ही पूर्णत: कैंसर सुविधाओं की भी शुरूआत की जाएगी। इसके साथ ही तैयार किए गए अस्पताल को 150 बैड से बढ़ाकर एक नई इमारत का निर्माण कर उसे 300 बैड का किया जाएगा।

इस अवसर पर डॉ. पांडे ने कहा कि धनबाद में अस्पताल बनाना मेरे लिए घर वापसी जैसा है। मैं बिहार के छपरा का रहने वाला हूं और धनबाद में मैने हाई स्कूल की पढ़ाई की है। दिल्ली में अस्पताल बनाने के बाद मेरा सपना था कि मैं अपने मूल स्थान पर लोगों को दिल्ली के मुकाबले की स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करूं और मुझे खुशी है कि मुझे ऐसा करने का मौका मिला।किसी भी अस्पताल की रीढ़ की हड्डी वहां के डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ होता है। हमारी कोशिश है कि हम धनबाद में जल्द ही पैरामेडिकल कोर्सिज़ की शुरूआत करें, जिससे 12वीं के बाद बच्चे दो साल का डिप्लोमा कर लैब टेक्नीशियन, ओटी टेक्नीशियन, रेडियोलॉजी टेक्नीशियन, डायलिसिस टेक्नीशियन, डेंटल टेक्नीशियन व अन्य टेक्नीकल कोर्स करके अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

डॉ. पांडे ने कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि इस अस्पताल से हम तकरीबन 1500 लोगों को रोजगार की सुविधा प्रदान करेंगे। मेरा सपना है कि हम यहां एक नर्सिंग कॉलेज की भी शुरूआत करें, जिससे हम धनबाद में एक संपूर्ण स्वास्थ्य केंद्र तैयार कर सकें। अभी तक लोगों को गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए रांची, जमशेदपुर व कोलकाता जाना पड़ता था, लेकिन अब उन्हें कहीं और जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यह अस्पताल 100 से 150 किलोमीटर के दायरे में संपूर्ण स्वास्थ्य चिकित्साएं मुहैया कराएगा। उन्होंने यह भी कहा कि हमारा लक्ष्य केवल यहीं तक नहीं है हमारी कोशिश है कि हम झारखंड की राजधानी रांची में 400 से 500 बेड का सुपरस्पेश्यालिटी अस्पताल लेकर आएं। वहां भी हम सभी तरीके के पैरामेडिकल कोर्सिज़ व नर्सिंग कॉलेज की शुरूआत करेंगे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: