Sunday, March 18, 2018

आईटीआई कॉलेजों में कार्यरत कर्मचारियों ने मंत्री विपुल गोयल के गृहक्षेत्र में डाला पड़ाव


फरीदाबाद 18 मार्च(abtaknews.com) औद्योगिक प्रशिक्षण तकनीकी कर्मचारी संघ के बैनर तले पूरे हरियाणा प्रदेश के सैकड़ों आईटीआई कॉलेजों में कार्यरत कर्मचारियों ने फरीदाबाद में केबिनेट मंत्री विपुल गोयल के गृहक्षेत्र फरीदपार्क में अपनी मांगों को लेकर पड़ाव डाल दिया है। पूरे प्रदेश की सभी आईटीआई से सैकड़ों कर्मचारी फरीदाबाद पहुंचे और फरीद पार्क में हरियाणा सरकार व केबिनेट मंत्री विपुल गोयल के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आईटीआई कालेजों के कर्मचारी कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने, समान काम समान वेतन देने और वर्षों से अनुबंध पर लगे हुए कर्मचारियों को बेरोजगार करके नए लोगों को रोजगार देने के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू करने के खिलाफ की मांगों लेकर प्रदर्शन किया। कर्मचारियों ने दी चेतावनी कहा कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल और हरियाणा सरकार ने उनकी मांगे नहीं मानी तो पूरे प्रदेश की आईटीआई कालेजों पर ताला बंदी की अनिश्चितकालीन हडताल पर बैठ जायेंगे। हाथों में काले बिल्ले और टैैंट में काले झंडे लगाकर हरियाणा सरकार मुर्दाबाद और केबिनेट मंत्री विपुल गोयल मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए नजर आ रहे ये सभी कर्मचारी हरियाणा प्रदेर्श की आईटीआई कालेजों में कार्यरत हैं जो कि आज पूरे प्रदेश से एकत्रित होकर फरीदाबाद केबिनेट मंत्री विपुल गोयल के गृहक्षेत्र में पहुंचे हैं। औद्योगिक प्रशिक्षण तकनीकी कर्मचारी संघ के बैनर तले पूरे हरियाणा प्रदेश के सैकड़ों आईटीआई कर्मचारियों ने हरियाणा सरकार पर वायदा खिलाफी का आरोप लगाया है।  इस बारे में औद्योगिक प्रशिक्षण तकनीकी कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण देशवाल ने बताया कि हरियाणा सरकार ने सत्ता में आने से पहले अपने घोषणा पत्र में वायदा किया था कि कच्चे कर्मचारियों को पक्का किया जायेगा, समान काम समान वेतन दिया जायेगा मगर अब सरकार इन तमाम मांगों पूरा करने की बजह उल्टा रोजगार पर लगे हुए अनुबंधित कर्मचारियों को बेरोजगार कर नये सिरे ये रोजगार देने के लिये भर्ती करवा रही है, कर्मचारिया ऐसा बिल्कुल भी नहीं होने देंगे। कर्मचारियों ने इन मांगों लेकर कई बार सरकार से बात करने की कोशिश की मगर कोई भी उनकी बातें सुनने को तैयार नहीं है इसलिये सभी ने मृत्री के गृह क्षेत्र में ही पडाव डाल दिया है अब जब तक उनकी मांगे नहीं मान ली जाती तब तक प्रदर्शन फरीदाबाद में जारी रहेगा।  वहीं आईटीआई कर्मचारियों को समर्थन देने पहुंचे सर्व कर्मचारी संघ के नेता सुभाष लांबा ने कहा कि साढे तीन लाख कर्मचारी उनके साथ है उन्हें अफसोस है कि लाखों रूपये खर्च करने के बाद दूर दराज से कर्मचारी फरीदाबाद पहुंचे हैं जिन्हें रास्ते में बहुत कठनाईयों का भी सामना करना पडा है जिनमें महिलायें भी शामिल हैं जिनके आने के बाद केबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने उनसे बात करने के लिये कहा है अगर बातचीत पहले ही हो जाती तो कर्मचारियों पेरशानी नहीं उठानी पडती । इस बारे में केबिनेट मंत्री विपुल गोयल से बात की गई तो उन्होंने कर्मंचारियों की कुछ मांगो को मानने से साफ मना कर दिया, उन्होंने कहा कि सरकार उनकी मांगों को पूरा करने में असमर्थ है, कुछ मांगे हैं जिनको लेकर सरकार मंथन कर रही है।

loading...
SHARE THIS

0 comments: