Friday, March 9, 2018

अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल ने महिला दिवस पर निकाली जागरूकता रैली

All India Terapanth Mahila Mandal organized awareness rally on Women's Day


फरीदाबाद 8 मार्च(abtaknews.com) अंतराष्ट्रीय महिला दिवस पर सैक्टर 10 स्थित तेरापंथ भवन में अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल द्वारा एक समारोह का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में फरीदाबाद नगर निगम की महापौर सुमन बाला ने शिरकत की। इस अवसर पर महिला मण्ंडल की और से श्रीमती सुमन बाला का जोरदार स्वागत किया गया। इस अवसर पर सुश्री सुमेधा बाठियां, रोलर हॉकी की खिलाडी भी मुख्य रूप से उपस्थित थी। ते.म.म.उपाध्यक्ष सुनिता नाहटा, ते.म.म. निवर्तमान अध्यक्ष सुमंगला बोरड ने भी कार्यक्रम में शिरकत की। 


समारोह को सम्बोधित करते हुए  सुमन बाला ने कहा कि आज का दिन हम सभी महिलाओं के लिए काफी महत्व रखता है क्योकि आज महिला दिवस है और हमें अपने ऊपर गर्व है कि हमारे लिए इस दिवस का आयोजन किया जा रहा है। उन्होने कहा कि महिला वह है जो कि दो घरो को बनाती है एक ससुराल व दूसरा मायका। उन्होंने कहा कि महिलाओं को आत्मसम्मान देने में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं छोडनी चाहिए और महिलाओं को भी पुरूषो के बराबर का दर्जा दिया जाना चाहिए। क्योकि एक वाहन बिना एक पहिये के नहीं चलता उसी प्रकार जीवन की गाडी भी महिला और पुरूष दोनो के सहयोग के बिना नहीं चल सकती। उन्होंने समस्त महिला मण्डल को मुबारकबाद दी।  इस अवसर पर महिला मंडल की अध्यक्ष रंजू नौलखा ने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल ने विश्व कीर्तिमान स्थापित करने की दिशा में सशक्त कदम बढाया है।  उन्होनेे बताया कि आज महिला सशक्तिकरण के सुंदरतम स्वरूप को विभिन्न पोस्टरो एवं बैनरो के माध्यम से वी-कैन शीर्षक से आयोजित होने वाली देशव्यापी रैलियों में दर्शाया गया और एक सशक्त अपील की गयी कि अगर हम साथ है तो कुछ भी असँभव नहीं है। हर कन्या को उसका अधिकार मिलेेगा और हर महिला को उसका सम्मान मिलेगा।

इस अवसर पर महिला मंडल की  सचिव ललिता बैद, कोर्डिनेटर कमला लूनिया ने कहा कि इतना ही नहीं भारतीय संस्कृति की पहचान, नारी का परिधान (साड़ी) को सुरक्षित रखते हुए हमने एक दिन, एक साथ, एक समय में हजारों की संख्या में महिलाएं एकत्रित की है जिससे सशक्तिकरण का संदेश जन जन तक पहुंचे  और इसका विश्व कीर्तिमान बने। इस अवसर पर महिला सशक्तिकरण सेमिनार का भी आयोजन किया  श्रीमती बैद व श्रीमती लूनिया ने बताया कि समारोह में विशेष ज्ञातव्य के तहत 4.15 से 4.30 बजे के दौरान नमस्कार महामंत्र के उच्चारण के साथ साध्वी प्रमुखाश्री कनकप्रभाजी द्वारा रचित प्रेरणागीत का संगान किया गया।  इस अवसर पर महापौर सुमन बाला ने  प्रेरणा का सम्मान श्रीमती कलावती भण्डारी को देकर सम्मानित भी किया।  
इस मौके पर महिला उपाध्यक्ष सुनिता नाहटा, निवर्तमान अध्यक्ष  सुमंगला बोरड ने कहाकि स्त्री अगर मॉ है तो साक्षात परमात्मा है। इसीलिए महिलाओं की सुरक्षा एवं उनको आत्मनिर्भर बनाने में सभी को महत्वपूर्ण भूमिका निभानी चाहिए। उन्होने कहा कि आज की नारी अपने साहस के बल पर कामयाबी का परचम लहरा रही है। अपनी  राह पर चलकर आज भी अनेक महिलाएं समाज सुधारक के लिए तत्पर है। उन्होंने कहा कि आज बडी संख्या में गांव की महिलाएु चुनाव में जीत कर पूरे गांव का नेतृत्व कर रही है। उनहोंने कहा कि महिलाओं के जागृत होने से निश्चित रूप से नगर व गांवो की तस्वीर और तकदीर बदल रही है।इस अवसर पर साध्वी प्रमुखाश्रीजी के मंगल संदेश के वाचन एवं अ.भा.ते.म.म की राष्ट्रीय अध्यक्ष कुमुद कच्छारा के लिखित आव्हान के साथ ही महापौर सुमन बाला द्वारा हरी झंडी के रूप में जैन ध्वजा दिखाकर रैली को रवाना किया। यह महिला सशक्तिकरण रैली पूरे भारतवर्ष में महिला मंडल की लगभग 400 शाखाएं में एक ही समय पर निकाली गयी। 


loading...
SHARE THIS

0 comments: