Tuesday, March 27, 2018

सिविल अस्पताल में चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी से डा. एस के अहलावत ने की मारपीट


फरीदाबाद 26 मार्च(abtaknews.com) चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी ने चाय नहीं पिलाई तो सरकारी अस्पताल के डॉक्टर ने की पिटाई। मामला  फरीदाबाद के बीके अस्पताल का है , जहां एक डॉक्टर पर अस्पताल के ही एक चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी के साथ  मारपीट करने का आरोप लगाया है। कर्मचारी द्वारा चाय न पिलाने पर उसके साथ मारपीट की गई और अभद्र भाषा का प्रयोग कर गन्दी गन्दी गालिया दी गई।  मारपीट को लेकर सभी कर्मचारियों ने सीएमओ ऑफिस के बाहर आरोपी डॉक्टर के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और अपनी शिकायत सीएमओ को लिखित में दी। शिकायत मिलने पर सीएमओ ने सभी कर्मचारियों को आऱोपी डॉक्टर के खिलाफ कार्यवाही करने की बात कही है। नारेबाजी करते दिखाई दे रहे ये सभी फरीदाबाद के बीके अस्पताल के चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी हैं। इनका आरोप है कि अस्पताल में ही कार्यरत डॉक्टर सुशील अहलावत ने इनके एक साथी के साथ मारपीट और गालीगलौज की है कर्मचारियों का ये भी आरोप है कि डॉक्टर सुशील अहलावत अक्सर चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों के साथ बदतमीजी करते हैं और गालियां देते हैं। सिविल अस्पताल के सभी कर्मचारियों में डॉक्टर द्वारा की गई इस मारपीट को लेकर भारी रोष है। कर्मचारी ने बताया की डॉ अहलावत ने उन्हें चाय बनाने के लिए बोलै था मगर चाय का सामान न होने के  चलते वह चाय नहीं बना पाया जिसके बारे में उसने डॉ को बता भी दिया उसके बाद भी कर्मचारी के साथ मारपीट की गई।  वहीं जब इस मामले को लेकर सीएमओ गुलशन राय से बात की गई तो उन्होंने बताया कि एक लिखित शिकायत उन्हें मिली है और इसके ऊपर जल्दी ही कार्यवाही की जाएगी। सीएमओ ने बताया कि इस मामले में एक जांच कमेटी गठित कर दी गई है और अस्पताल में लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद भी ली जाएगी आरोप सही साबित होने पर आरोपी डॉक्टर के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी।

loading...
SHARE THIS

0 comments: