Sunday, March 25, 2018

ईसाई समुदाय ने खजूर का इतवार (पाल्म सण्डे) पर निकाला विशाल जलूस


फरीदाबाद 25 मार्च(abtaknews.com)ईसाई समुदाय द्वारा आज खजूर का इतवार (पाल्म सण्डे) के अवसर पर विशाल जलूस निकाला। यह जलूस फरीदाबाद स्थित सभी चर्चो से निकाला गया। सभी चर्चो के श्रृद्धालओं ने अपने अपने चर्चो की विभिन्न झाकियां बनायी और जलूस में शामिल हुए। एनआईटी-5 स्थित शान्ति निवास चर्च ने भी अपने शानदार झांकी बनायी जिसमें प्रभु यीशू के जीवन को दर्शाया। इस अवसर पर शान्ति निवास चर्च के पास्टर एम.पी.सोना ने कहा कि खजूर का इतवार मनाने का उददेश्य इस बात की घोषणा करना है कि प्रभु यीशू मसीह राजाओ का राजा और प्रभुओ का प्रभु है। ईसा से 518 वर्ष पूर्व जकर्याह नबी के द्वारा यह भविष्यवाणी की गयी थी कि प्रभु यीशू मसीह एक राजा के रूप में यरूशलेम में प्रवेश करेगा। वो नम्र, दीन व धर्मी होगा और उसके वचनो से लड़ाई झगडे समाप्त होंगे।
The Christian Community Extra Large Pursuit on Palm Swan (Palme Sundae)

पास्टर सोना ने बताया कि आज से लगभग 2000 साल पहले प्रभु यीशू ने एक राजा की तरह यरूशलेम में प्रवेश कर इस भविष्णवाणी को पूरा किया। प्रभु यीशू ने अपनी सवारी के लिए घोडों और रथो को नही बलिक गधी के बच्चे को चुना जो नम्रता और दीनता का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि जब प्रभु उस पर बैठकर चले तो लोगों ने उन की जयजयकार के  नारे लगाये और कहा धन्य है वह जो प्रभु के नाम से आता है। आकाश में होशन्ना। लोगों ने अपने कपड़े और खजूद की डालियां उनके रास्ते में बिछा दी और साथ ही खजूर की डालियां हाथो में लेकर प्रभु की जयजयकार की। इसीलिए इसे खजूर का इतवार कहा जाता है। अत हर साल इस बात की याद में खजूर की डालियां लेकर मसीही समाज के लोग जलूस निकालते है और इस बात की घोषणा करते है कि प्रभु यीशू मसीह राजाओ का राजा और प्रभुओ का प्रभु है।यह जलूस शान्ति निवास चर्च से होता हुआ एनएच-5 स्थित भगत सिंह चौक, गांधी कालोनी, एनएच-4, 5 की मार्किट होता हुआ सेंट जोसेफ स्कूल में पहुंचा जहां प्रार्थना सभा होने के पश्चात सभी को भोजन करवाया गया।



loading...
SHARE THIS

0 comments: