Wednesday, March 21, 2018

प्रजातंत्र के नाम पर देश में लोकसभा के निर्णयों का राजयसभा में मजाक उड़ाया जा रहा है ; सैनी



In the name of democracy, the decisions of the Lok Sabha in the country are being mocked in the Rajya Sabha; Saini
फरीदाबाद(abtaknews.com) 21 मार्च,2018;  कुरुक्षेत्र से भाजपा सांसद राजकुमार सैनी आज फरीदाबाद पहुंचे और वह लोकसभा और राज्यसभा पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि तीन तलाक के केस को लोकसभा में सभी सांसदों ने मिलकर पास कर दिया लेकिन राज्यसभा में रद्दी की टोकरी में डाल दिया गया। यह कैसा प्रजातंत्र है। प्रजातंत्र के नाम पर देश में लोकसभा का देश में मजाक उड़ाया जा रहा है। देश की सबसे बड़ी पंचायत कही जाने वाली लोकसभा में एक बिल को सांसद पास कर देते हैं और उसी बिल को राज्यसभा में रद्दी की टोकरी में डाल कर उसे कचरा बना दिया जाता है। विपक्ष लोकसभा के सभी कार्यों को धराशाई करने का काम कर रहा है।
In the name of democracy, the decisions of the Lok Sabha in the country are being mocked in the Rajya Sabha; Saini

राजकुमार सैनी फरीदाबाद के शाहपुरा गांव में कार्यकर्ताओं की बैठक को लेने आए थे। इस दौरान वह अपने कार्यकर्ताओं से भी मिले और कुछ नई पदाधिकारियों को नियुक्ति पत्र भी सौंपा। सैलरी इन सभी नए पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को पूरी मेहनत करने का आह्वान किया। सैनी ने साफ तौर पर कहा कि सिद्धांतों के विपरीत कभी कोई कार्य नहीं करता। राजकुमार सैनी की माने तो अगर वर्ष 2019 के चुनाव में जनता ने अपना आशीर्वाद दिया तो जनसंख्या के अनुपात में सौ फ़ीसदी आरक्षण पूरे देश को मिलेगा। हर परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी मिलेगी तथा सौ दिन कि मनरेगा स्कीम को 300 दिन का किया जाएगा। इतना ही नहीं मनरेगा स्कीम को किसानों के साथ जोड़ा जाएगा तथा ढाई सौ रुपए मजदूरों को सरकार की तरफ से दिए जाएंगे। इससे किसानों को एक मजदूर केवल ₹22 में मिल जाएगा।

भारतीय जनता पार्टी के कुरुक्षेत्र से सांसद राजकुमार सैनी ने अपने सम्बोधन में बोले कि मैंने सरकार से कहा था कि जब डंडे के जोर पर कुछ लोग इस तरह आरक्षण को हथियाना चाहते हैं तो सौ फ़ीसदी आरक्षण सभी को जनसंख्या के अनुपात के अनुसार दे दिया जाए। अपनी पार्टी बनाए जाने की बात पर राजकुमार सैनी ने कहा कि हमारा काम चल रहा है और हम बहुत जल्द जनता के बीच में जाएंगे और अपने पांच मुद्दों को जनता के बीच रखेंगे। जनसंख्या नियंत्रण के लिए अगर देश से नहीं तो प्रदेश में एक मुहिम चलाएंगे। जिसकी शुरुआत हरियाणा से हम दो हमारे दो नारे के साथ करेंगे। सैनी ने कहा कि हरियाणा के निर्माण से लेकर अब तक पांच मुख्यमंत्रियों ने कभी आरक्षण के नाम पर तो कभी दूसरे मुद्दों पर प्रदेश की जनता का इस्तेमाल कर उन्हें रुलाने का काम किया है।




loading...
SHARE THIS

0 comments: