Sunday, March 11, 2018

भगवान परशुराम के जीवन व चरित्र को पाठ्यक्रम में शामिल करने की मांग

Demand for joining the life and character of Lord Parashurama in the curriculum

फरीदाबाद(abtaknews.com ) : अखिल भारतीय ब्राह्मण सभा ने भगवान परशुराम की जीवनी एवं चरित्र को शिक्षा पाठ्यक्रम में शामिल करने की मांग की। उक्त मांग को लेकर उन्होंने सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पं. सुरेन्द्र शर्मा बबली के नेतृत्व में कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल को ज्ञापन सौंपा। जिसमें उन्होंने कहा कि भगवान परशुराम जी सचल अवतार हैं, उनकी त्रेता युग से लेकर द्वापर एवं कलयुग में महिमा है। जिसके चलते आज भी पूरा हिन्दू समाज उनको ईष्ट के रूप में पूजता है। उन्होंने कहा कि उक्त मांग को लेकर अखिल भारतीय ब्राह्मण सभा ने राजस्थान सरकार से भी मांग की है, जिस पर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आश्वासन दिया है कि अक्षय तृतिया से वो भगवान परशुरमा के जीवन चरित्र एवं उनके कार्यों का उल्लेख पाठ्यक्रम में शामिल कर देंगे। ब्राह्मण सभा की उक्त मांग केबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने कहा कि उक्त मांग को वो माननीय मुख्यमंत्री के सामने रखेंगे और उनसे अपील करेंगे कि भगवान परशुराम के जीवन चरित्र का वर्णन हिन्दी पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए। इस मौके पर उनके साथ पं. एल आर शर्मा मैनेजर, पं. कृष्णकांत, विजय, पं. ओ पी शास्त्री, पं. मुकेश, पं. ललित पाराशर, पं. राजेन्द्र शर्मा, पं. राजकुमार कौशिक, पं. देवराज, पं. द्रोणाचार्य, पं. त्रिलोक, पं. हरीश कुलैना, पं. तेजपाल, पं. श्यामसुंदर, पं. जयनारायण मास्टर आदि मौजूद थे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: