Saturday, March 10, 2018

एएलएम रमेश की करंट लगने से दर्दनाक मौत, अधिकारियों की लापरवाही

ALAM Ramesh's death caused painful death, officers' negligence

फरीदाबाद, 10 मार्च,2018(abtaknews.com)बिजली विभाग के अधिकारियों की लापरवाही से एक और आऊटसोर्सिंग पर लगे एएलएम को रमेश की करंट लगने से दर्दनाक मौत हो गई। इस पर ऑल हरियाणा पावर वर्कर्स यूनियन ने मृतक रमेश के परिजन को सरकारी नौकरी व 30 लाख रूपए का मुआवजा देने तथा दोषी अधिकारियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।जानकारी के अनुसार खेड़ी कला सब डिवीजन के अन्तर्गत आने वाली हरिनगर कालोनी में आज लाइन पर काम करते वक्त 40 वर्षीय करनाल निवासी रमेश की एसआरएस की रेजीडेंसल फीडर की लाइन की चपेट में आ गया। सूचना मिलते ही साथी कर्मचारी मौके पर पहुंचे और घायल रमेश को मैट्रो अस्पताल में उपचार के लिए लाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद कर्मचारियों ने मैट्रो अस्पताल में जोरदार नारेबाजी की। मृतक रमेश के 4 बच्चे और उसकी पत्नी जो की इंद्रा कॉम्प्लेक्स कॉलोनी नहर पार रहते है। विगत 36 घंटे से शव बी के हॉस्पिटल में है अभी तक पोस्टमार्टम नहीं हुआ है।  ना ही कोई विधायक, मंत्री पीड़ित परिवार को  ढाढस बंधाने पहुंचा।

नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री, बिजली कर्मचारी यूनियन के राज्य उपप्रधान सतपाल नरवत, बिजली यूनियन के केन्द्रीय कमेटी के नेता शब्बीर अहमद, सर्व कर्मचारी संघ के जिला प्रधान अशोक कुमार, कर्मी नेता युद्धवीर खत्री, करतार सिंह ने बिजली विभाग के अधिकारियों को इस लापरवाही पर चेतावनी देते हुए कहा कि यदि यूनियन द्वारा की गई मांग को पूरा नहीं किया गया तो कल पोस्टमार्टम के बाद प्रदर्शन किया जाएगा। इस प्रदर्शन में सभी विभागों के कर्मचारी शामिल होगें।


loading...
SHARE THIS

0 comments: