Wednesday, March 7, 2018

जीजा ने उधार पैसे न देने पर साले का किया मर्डर,आरोपी को क्राईम ब्रांच डीएलएफ ने दबोचा

Jija kills Murder, if not paid for lending, Crime Branch DLF dubs him

फरीदाबाद(abtaknews.com) 07 मार्च,2018; होली के दिन के 1 मार्च को फरीदाबाद की नेहरू कलोनी के पीछे पहाडियों पर हुए नाबालिक युवक के ब्लांईड मर्डर की गुत्थी को क्राईम ब्रांच डीएलएफ टीम ने तीन दिन में सुलझाने का दावा किया है, जिसमें मात्र 15 हजार रूपये उधार न देने पर बहन के देवर ने ही अपने नाबालिक साले को फांसी लगाकर मार डाला था और आरोपी रवि मोबाईल लेकर यूपी के जिला ओरैया भाग गया था, जिसे पुलिस ने जांच के बाद गिरफ्तार कर लिया है। 

फरीदबाद क्राईम ब्रांच डीएलएफ पुलिस टीम की गिरफ्त में नजर आ रहा है ये शख्स अपने ही नाबालिक साले का हत्यारा है जिसने अपने नाबालिक साले रंजीत को मात्र 15 हजार रूपयेे उधार देने पर मौत के घाट उतार दिया। दरअसल आरोपी रवि भौंनकपुर थाना फूफंद जिला ओरैया यूपी का निवासी है, जो कि पेशे से एक मजदूर है जिसे होली के पर्व पर पैसे की जरूरत थी, जिसके चलते आरोपी ने अपनी भाभी के भाई से 15 हजार रूपये की मांग की, जिसपर रंजीत ने उसे पैसे देने के लिये हां कर दी और आरोपी रवि यूपी से फरीदाबाद होली के दिन पैसे लेने के लिय आ गया, जहां मृतक रंजीत ने उसे पैसे देने से मना कर दिया तो रवि ने एक प्लांनिग के तहत अपने साले रंजीत को नेहरू कालोनी के पीछे पहाडी पर बुलाया और पीछे से गले में कपडे का फंदा डालकर उसकी हत्या कर दी तथा उसके पैर पकड़ खींच कर उपर पहाडी पर ले गया जहां उसे पेड़ से बांधकर छोड़ दिया हत्या के बाद आरोपी मृतक का मोबाईल लेकर अपने गांव यूपी वापिस भाग गया। पुलिस ने पूरे मामले की जांच करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपी रवि ने मीडिया को बताया कि वो अपनी भाभी के भाई रंजीत से उधार पैसे लेने फरीदाबाद आया था, जहां उसने पहले हां बोलने के बाद फिर पैसे देने से मना कर दिया , उसकी जेब में पैसे नहीं थे इसलिये उसे गुस्सा आया और उसे पहाडी पर बुलाकर मार डाला फिर उसका मोबाईल बेचने के लिये लेकर भाग गया। लेकिन मर्डर के बाद अब उसे पछतावा है क्योंकि उसके दो छोटे- छोटे बच्चे हैं।

loading...
SHARE THIS

0 comments: