Monday, March 5, 2018

वृद्धाआश्रम में सृष्टि बचाओं संस्था ने खेली होली


फरीदाबाद 5 मार्च(abtaknews.com ) सृष्टि बचाओ संस्था समाजसेवा एवं बुजुर्गों की सेवा में सदैव अग्रसर रही है और हर पर्व एवं खुशी का दिन बुजुर्गो के साथ मनाना इस संस्था का मुख्य उददेश्य है यह उदगार युवा समाजसेवी मुनेश पण्डित ने डबुआ कालोनी में स्थित वृद्धाआश्रम सृष्टि बचाओं संस्था द्वारा आयोजित समारोह में उपस्थित वृद्ध, वुद्धाओ के समक्ष कहे। इस अवसर पर उन्होंने फूलों की होली भी खेली। श्री मुनेश पण्डित ने कहा कि बुजुर्गो की सेवा ही सबसे बड़ा पुण्य का कार्य है और तीज त्यौहारो पर अगर हम इन बेसहारा बुजुर्गो के साथ मनाये तो अवश्य ही हम पुण्य के भागीदार बनेंगे।

इस अवसर पर संस्था के संस्थापक संतोष शर्मा ने कहा कि बुजुर्गो की सेवा एवं बडो का आदर प्रत्येक मनुष्य को अपने जीवन में करना चाहिए ताकि वह एक सफल मनुष्य बन सके। उन्होंने कहा कि हमें काफी शकुन मिलता है जब हम इन बुजुर्गो के साथ पर्व, जन्मदिन आदि मनाते है। उन्होंने कहा कि इनको सुखी देखकर संस्था का प्रत्येक पदाधिकारी व कार्यकर्ता प्रफुल्लित हो जाता है और वह सदैव इनकी सेवा करने में अपने आपको तैयार रखता है। 

इस समारोह में दिल्ली एन सी आर के ज्यादातर समाजसेवीयों ने  सृष्टि बचाओ के इस होली मिलन समारोह मे शिरकत की एवम सृष्टि बचाओ के इस होली मिलन समारोह की भूरी भूरी प्रशंशा की । इस अवसर पर कवि मोहन कृष्ण शास्त्री एवम देवेंद्र गौर ने अपनी ओजस्वी कविताओं से बुजुर्गों एवम सभी का भरपूर मनोरंजन किया ।

loading...
SHARE THIS

0 comments: